Monday, Sep 27, 2021
-->
aimim asaduddin owaisi k chandrashekar rao npr west bangal

ओवैसी बोले TRS सरकार लगाए NPR गतिविधि पर रोक

  • Updated on 12/25/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। एआईएमआईएम (AIMIM) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने तेलंगाना में मुस्लिम संगठनों की एक इकाई के प्रतिनिधियों के साथ मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव (K. Chandrashekar Rao) से बुधवार को मुलाकात की।     
CAA और NRC के खिलाफ कांग्रेस का शांति मार्च, समर्थकों के साथ सड़क पर उतरे कमलनाथ

केरल की तरह रोक लगाने की अपील
इस दौरान उन्होंने राष्ट्रीय जनसंख्या पंजी (NPR) के अद्यतन पर भी केरल की तरह ही रोक लगाने की अपील की। बैठक खत्म होने के बाद बाहर ओवैसी ने इसे ‘सकारात्मक’ बताते हुए कहा कि उन्होंने राव को बताया कि एनपीआर दरअसल राष्ट्रीय नागरिक पंजी की तरफ बढने की पहली प्रक्रिया है।     
वाजपेयी जयंती: लखनऊ पहुंचे पीएम मोदी, 25 फीट ऊंची अटल प्रतिमा का किया अनावरण

मुद्दे पर सहानुभूति प्रकट की
उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री ने उनके मुद्दे पर ‘सहानुभूति’ प्रकट की और इस पर जवाब देने के लिए दो दिन का समय मांगा है। हैदराबाद (Hyderabad) के लोकसभा सांसद यहां शहर के यूनाइटेड मुस्लिम एक्शन कमेटी के प्रतिनिधियों के साथ थे।     एनआरसी (NCR) और संशोधित नागरिकता कानून को लेकर हो रहे विरोध प्रदर्शन के बीच माकपा के नेतृत्व वाली एलडीएफ ने शुक्रवार को एनपीआर से जुड़ी सभी गतिविधियों पर रोक लगा दी। इससे पहले पश्चिम बंगाल (West Bangal) में भी एनपीआर गतिविधि पर रोक लग चुकी है।     

हिंद महासागर में बढ़ता जलस्तर है चिंता का विषय: अध्ययन

मोदी के भाषण को दिया हवाला 
ओवैसी ने दिल्ली में रामलीला मैदान में प्रधानमंत्री मोदी के भाषण का भी हवाला दिया। मोदी ने कहा था कि एनआरसी पर कोई चर्चा नहीं है। ओवैसी ने इस पर कहा कि राष्ट्रपति ने राजग सरकार के गठन के बाद संसद में कहा था कि एनआरसी लाया जाएगा।  उन्होंने कहा, ‘‘ क्या यह केंद्र सरकार है जो राष्ट्रपति का भाषण तैयार करती है। यह संसद में पढ़ा गया था। क्या यह गलत था ?’’ ओवैसी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने कहा था कि कोई डिटेंशन कैम्प (Detention camp) नहीं बना है जबकि कर्नाटक में भी एक डिटेंशन कैम्प का पता चला है और असम में यह बन रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘ भारत के प्रधानमंत्री (prime minister) हम आपसे यह उम्मीद नहीं कर रहे थे।  

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.