Wednesday, Aug 17, 2022
-->
air force helicopter crash tamil nadu police registers fir, use of drones in investigation rkdsnt

वायुसेना हेलीकॉप्टर दुर्घटना: तमिलनाडु पुलिस ने दर्ज की FIR, जांच में ड्रोन का इस्तेमाल

  • Updated on 12/9/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। तमिलनाडु में कुन्नूर के निकट हुई हेलीकॉप्टर दुर्घटना के संबंध में बृहस्पतिवार को पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। इस दुर्घटना में हेलीकॉप्टर में सवार प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी और 11 अन्य लोगों की मौत हो गई थी। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि नीलगिरि जिला पुलिस ने आपराधिक प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 174 के तहत प्राथमिकी दर्ज की और एडीएसपी मुथुमनिकम को जांच अधिकारी नियुक्त किया गया। 

विपक्षी दलों ने की ED, CBI निदेशकों का कार्यकाल बढ़ाने वाले विधेयक को वापस लेने की मांग

 

पुलिस जांच के दौरान दुर्घटनास्थल के पास ड्रोन कैमरे का इस्तेमाल कर रही है। भारतीय वायुसेना का एक हेलीकॉप्टर बुधवार को दुर्घटनाग्रस्त हो गया था, जिसमें भारत के पहले सीडीएस जनरल रावत, उनकी पत्नी और 11 अन्य सैन्यर्किमयों की मौत हो गई थी। दुर्घटना में हेलीकॉप्टर में सवार 14 यात्रियों में से केवल एक व्यक्ति ही जीवित मिला था। 

मानहानि मामले में हाई कोर्ट ने BJP नेताओं के खिलाफ कार्यवाही पर लगाई रोक

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बृहस्पतिवार को संसद को बताया कि एयर मार्शल मानवेंद्र सिंह के नेतृत्व में दुर्घटना की जांच शुरू कर दी गई है। इस बीच, दुर्घटना में जान गंवाने वालों के शव कोयंबटूर ले जाते समय दो मामूली दुर्घटनाएं होने की जानकारी मिली है। कोयंटूबर से इन शवों को नयी दिल्ली ले जाया जाएगा। कोयंबटूर के बाहरी इलाके करमादाई में हुई एक दुर्घटना में एक शव ले जा रही एंबुलेंस ने सामने से आ रही एक और एंबुलेंस को टक्कर मार दी। 

सीडीएस रावत को ले जा रहे हेलीकॉप्टर हादसे की ‘कोर्ट ऑफ इंक्वायरी’ के आदेश दिए

अधिकारियों ने बताया कि दुर्घटना की वजह से वाहन आगे नहीं जा सका और पा्र्थिव शरीर को दूसरी एंबुलेंस में शहर के सुलूर वायुसेना अड्डे ले जाया गया।  इससे पहले, शवों को ले जा रही एंबुलेंस के पीछे चल रही पुलिस की एक गाड़ी बरलियार के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई। उन्होंने बताया कि कुछ पुलिसर्किमयों को मामूली चोटें आई हैं। 

बादल और चन्नी में मजीठिया की गिरफ्तारी का नाटक रचने को हुआ गुप्त समझौता : AAP

comments

.
.
.
.
.