Thursday, Jul 18, 2019

जेट यात्रियों को एयर इंडिया का सहारा, वापस मिलेगा किराया

  • Updated on 4/19/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कई सप्ताह तक चली अनिश्चितता के बाद जेट एयरवेज (jet airways) ने बुधवार को अपनी सेवाएं अस्थायी रूप से निलंबित करने की घोषणा कर दी। एयरलाइन (airline) ने बैंकों से आपात राहत के तौर पर बड़ी राशि मांगी थी लेकिन वित्तीय मदद न मिलने के बाद उसके पास अपनी सेवाएं बंद करने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा था।

इस बारे में जानकारी देते हुए सिविल एविएशन के अधिकारी ने कहा कि कंपनी से एक पुख्ता और भरोसेमंद योजना सौंपने की बात कही गई है, जिससे कि एयरलाइन की सेवाएं जल्द ही शुरू की जा सके।

इस बार ही नहीं पहले भी जनता को देख नेताओं के बिगड़े हैं बोल

प्रतिद्वंदी एयरलाइनों के लिए वरदान बनी जेट एयरवेज की ग्राउंडिंग

हालांकि जेट एयरवेज की ग्राउंडिंग अन्य एयरलाइंस के लिए वरदान बनकर आई है। इसकी उड़ानों के निलंबन न केवल पूरी तरह से मुंबई और दिल्ली हवाई अड्डों पर जेट एयरवेज के स्लॉट को खाली कर दिया है, बल्कि प्रतिद्वंदी एयरलाइनों के लिए जेट के निष्क्रिय विमान को लीज पर लेने का अवसर भी खोल दिया है।

एयर इंडिया (air india) के प्रबंध संचालक अश्वनी लोहानी (ashwani lohani) ने एसबीआई को जेट के पांच बोइंग 777 को लीज पर देने की बात कही है। वह मुंबई, लंदन, दुबई, सिंगापुर और दिल्ली के लिए पांच अतिरिक्त उड़ानें शुरू करना चाहते हैं। लोहानी ने एयर इंडिया एक्सप्रेस को जेट के ग्राउंडिंग बोइंग 737 में लेने पर विचार करने के लिए भी कहा है। 

स्पाइसजेट ने बड़ी संख्या में बोइंग 737 को लीज पर लिया

स्पाइसजेट  (SpiceJet) ने बी 737 मैक्स जो की ग्राउंडिंग की कमी के कारण जेट एयरवेज से कम समय में जब्त हो गया था) लीज पर ले लिया है। गुरुवार को स्पाइसजेट ने कहा कि वह 16 बी 737 और 5 क्यू 400 के अलावा छह और बोइंग 737-800 एनजी विमानों को भी ड्राई लीज पर शामिल करेगी।

तत्काल शामिल किए जाने वाले विमानों की कुल संख्या अब 27 हो गई है। एयरलाइन ने मुंबई और दिल्ली को अन्य भारतीय शहरों से जोड़ने वाली 24 नई उड़ानों की भी घोषणा की है। इनमें से 20 मुंबई को दिल्ली सहित अन्य शहरों से जोड़ेंगी।   

एयर इंडिया ने की ये खास घोषणा

एयर इंडिया (air india) ने जेट की रद्द उड़ानों के यात्रियों के 'फंसे किराए' को लेकर एक खास घोषणा की है। इसमें उन्होंने कहा है कि जिन यात्रियों ने लंदन, बैंकॉक, सिंगापुर, हांगकांग और मस्कट से मुंबई और दिल्ली के लिए फ्लाइट बुक की थीं उनकी मदद एयर इंडिया द्वारा की जाएगी।

जेट एयरवेज की सर्विस बंद होने से यात्री परेशान, दूसरी फ्लाइट्स के लिए करनी पड़ रही जेब ढीली

जेट ग्राउंडिंग के कारण घरेलू उड़ान के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले 75 विमान सिस्टम से बाहर चले गए हैं जबकि अन्य भारतीय एयरलाइन्स द्वारा पिछले पांच महीनों में 58 विमान खरीदे जा चुके हैं। वर्तमान में 17 विमानों की जरूरत है। अन्य एयरलाइंस ने बताया कि वे मई, जून और जुलाई में 31 और विमानों को शामिल करेंगी और उन्हें 20 से ज्यादा के लिए और लीज मिल सकती है।

एयर इंडिया के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक पी.एस खारोला (p.s kharola) ने एयरलाइन और हवाई अड्डे के संचालकों से मुलाकात के बाद कहा की हमने सभी एयरलाइनों से अनुरोध किया है कि वे विमान के आवागमन में तेजी लाएं क्योंकि गर्मियों में यात्रा के लिए मांग बहुत ज्यादा है। 

त्याग, क्षमा, मेल-मिलाप और सहायता की याद दिलाता है 'गुड फ्राइडे'

हालांकी जेट एयरवेज के स्लॉट अभी तीन महीने के लिए दिए जाएंगे और अगर जेट के नुकसान की भरपाई उस समय में नहीं होती है, तो स्लॉट को एक महीने के लिए बढ़ाया जाएगा। खारोल ने कहा, 'कुछ एयरलाइंस जेट की विस्तृत बॉडी एयरक्राफ्ट को भी लीज पर देने के लिए बातचीत कर रही हैं। यात्रियों को इसके रिफंड की डिटेल्स और इसकी प्लान और शिड्यूल के बारे में जानकारी देने के लिए ऐसा करने को कहा गया है।

लोहानी ने बुधवार को एसबीआई (sbi) के प्रमुख रजनीश कुमार (rajnish kumar) से बात की और फिर उन्हें लिखा, 'एयर इंडिया में जेट एयरवेज के मामलों की वजह से हम वास्तव में दुखी हैं... देश की प्रमुख विमानन कंपनी होने के नाते अगर हम यात्रियों की असुविधा को कम कर पाते हैं तो हमें खुशी होगी।' इसलिए हम ग्राउंडेड B777s में से पांच के संचालन की संभावना तलाश रहे हैं। स्वीकृतियों और वित्तीय व्यवहार्यता के अधीन, हम SBI से पांच B777 को लीज पर लेने की संभावना की जांच कर सकते हैं।'

गुरुवार को सरकार ने एयरलाइंस को उचित किराया वसूलने के दिये निर्देश
आपको बता दें जेट एयरवेज की उड़ानें पूरी तरह बंद होने से हवाई यात्रा के किरायों में तेज बढ़ोत्तरी हुई है। घरेलू फ्लाइट्स  के टिकट 30 से 50 फीसदी महंगे हो चुके हैं। ऑनलाइन ट्रैवल साइट्स के मुताबिक घरेलू और अंतरराष्ट्रीय मार्ग पर किरायों में 30 से 50 फीसदी का इजाफा दिख रहा है। घरेलू मार्ग पर फ्लाइट्स की मांग में बढ़ोत्तरी के मद्देनजर इंडिगो एयरलाइंस ने मुंबई और दिल्ली हवाई मार्ग पर अपनी उड़ानों की संख्या बढ़ाई है लेकिन इससे बहुत राहत मिलने की उम्मीद नहीं है। 

 

comments

.
.
.
.
.