Friday, Nov 16, 2018

जहरीली धुंध के साये में राजधानी दिल्ली व NCR, सभी को मॉस्क पहनने की हिदायत

  • Updated on 6/13/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बढ़ते सियासी पारे के बीच दिल्ली में आबोहवा भी जहरीली हो गई है। देश की राजधानी और इसके आस-पास के इलाकों में आसमान धूल से सना दिख रहा है। इस धूल को देखर अंदाजा लगाया जा सकता है कि हवा कितनी प्रदूषित हो चुकी है।राजधानी और एनसीआर क्षेत्र में प्रदूषण की स्थिति भयावह है।सभी को मॉस्क पहनने की हिदायत दी गई है।

दिल्ली के पर्यवारणविदों की मानें तो राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र जहरीली हवा की गिरफ्त में है। राजधानी के चारों ओर फैली इस जहरीली हवा से लोगों के स्वास्थ्य  पर बूरा  असर पड़ेगा ।यहां निवास करने वाले लोगों पर भविष्य में बीमार पड़ने का खतरा है। 

मुबंई : वर्ली की बहुमंजिला इमारत में भीषण आग, 26वें फ्लोर पर है दीपिका पादुकोण का घर

मंगलवार को दूषित रही हवा

दिल्ली में मंगलवार को हवा में धूल के कणों के कारण प्रदुषत का स्तर सबसे अत्याधिक रहा। इस धूल को पीएम 10 के रूप में वर्गीकृत किया गया था, जो इंसानी बाल की चौड़ाई से लगभग पांच गुना छोटा होता है। रविवार शाम 6 बजे हवा में इसका स्तर 138 मापा गया, जो मंगलवार सुबह 8 बजे 433 बजे तक पहुंच गया। हवा में आए इस बदलाव का कारण विशेषज्ञों ने हवा की दिशा बदलना बताया।

नोएडा भी दूषित

नोएडा में मंगलवार शाम चार बजे एयर क्वालिटी इंडेक्स का स्तर 342 रिकॉर्ड किया गया। गाड़ी चलाने वालों के अलावा सांस संबंधित मरीजों को दिक्कत का सामना करना पड़ा रहा है। पीएम 10 के लिए सुरक्षित सीमा 100ug/m3 है और 430ug/m3 से ऊपर के स्तर को गंभीर माना जाता है।

सरकार पर ठोस कार्रवाई न करने का आरोप

पर्यावरणविद विमलेंदु झा ने कहा कि केंद्र या राज्य सरकार कोई ठोस कार्रवाई नहीं कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि निर्माण कार्यों के नाम पर पेड़ काटे जा रहे हैं जिससे सार्वजनिक स्वास्थ्य पर संकट खड़ा हो गया है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.