Tuesday, Mar 09, 2021
-->
air quality in delhi recorded in very poor category sohsnt

Air Pollution: दिल्ली में जारी है प्रदूषण का कहर, बहुत खराब श्रेणी में दर्ज किया गया आज का AQI

  • Updated on 11/21/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली (Delhi) में  शनिवार यानी आज सुबह सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (SAFAR) के अनुसार वायु गुणवत्ता 'बहुत खराब' श्रेणी में दर्ज की गई। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) के अनुसार जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम इलाके का AQI 258, ITO का 275 और आनंद विहार का 264 रिपोर्ट किया गया है,जोकि हवा की खराब श्रेणी को दर्शाता है।

CM केजरीवाल ने कहा- कोरोना वैक्सीन पाने में कोई VIP नहीं, इनको देंगे वरीयता


दिल्ली समेत पूरा एनसीआर प्रदूषण की जद में
प्रदूषण से न सिर्फ दिल्ली में स्थिति भयाभव है बल्कि पूरा एनसीआर इसकी जद में आ गया है। वायु प्रदूषण के मामले में शुक्रवार को गाजियाबाद शहर ‘रेड जोन’ में प्रवेश कर गया और यह राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के सर्वाधिक खराब वायु गुणवत्ता वाले शहरों में शामिल रहा। गाजियाबाद का वायु गुणवत्ता सूचकांक शुक्रवार को 320 दर्ज किया गया जो ‘अत्यंत खराब’ श्रेणी में है। इसके बाद दूसरे नंबर पर ग्रेटर नोएडा रहा जहां वायु गुणवत्ता सूचकांक 310 दर्ज किया गया। जबकि तीसरे नंबर पर नोएडा रहा जहां वायु गुणवत्ता सूचकांक 302 रहा।

केजरीवाल ने अपने कार्यकर्ताओं से लोगों को मुफ्त मास्क देने की अपील की

बीते दिन ये थी स्थिति
इसके अलावा हापुड़ में 207, फरीदाबाद 296, गुरुग्राम 276, आगरा 295, बल्लभगढ़ 270, भिवानी 329 और मेरठ में वायु गुणवत्ता सूचकांक 292 दर्ज किया गया। बता दें कि गोवर्धन पूजा के दिन हुई बारिश की वजह से राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र की आबोहवा में काफी सुधार आया था। इससे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के ज्यादातर शहर ‘रेड जोन’ से ‘यलो जोन’ और ’ऑरेंज जोन’ में आ गए थे। किंतु बृहस्पतिवार से राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र की हवा फिर से दूषित होनी शुरू हो गई तथा यहां के कई प्रमुख शहर अब ‘रेड जोन’ में आ गए हैं।

दिल्ली से नोएडा आने वालों की तीसरे दिन भी की गई कोरोना जांच, 5 लोग मिले संक्रमित

ऐसे तय होता है वायु गुणवत्ता सूचकांक
 शून्य से 50 के बीच वायु गुणवत्ता ‘अच्छी’, 51 से 100 के बीच संतोषजनक, 101 से 200 के बीच ‘मध्यम’, 201 से 300 के बीच ‘खराब’, 301 से 400 के बीच ‘अत्यंत खराब’ और 401 से 500 के बीच वायु गुणवत्ता सूचकांक ‘गंभीर’ श्रेणी में माना जाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.