Monday, Aug 15, 2022
-->
Airlines will refund full fare of tickets booked during corona lockdown period says DGCA rkdsnt

Airlines लॉकडाउन के दौरान बुक की गई टिकटों का पूरा किराया वापस करेंगी : DGCA

  • Updated on 9/6/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। विमानन क्षेत्र के नियामक नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) ने उच्चतम न्यायालय (Supreme Court) में प्रस्ताव दिया है कि लॉकडाउन की अवधि के दौरान घरेलू या अंतरराष्ट्रीय यात्रा के वास्ते बुक की गई टिकटों का पूरा किराया एयरलाइनों (Airlines) द्वारा वापस दिया जायेगा। डीजीसीए ने शीर्ष अदालत में दाखिल एक हलफनामे में कहा कि अन्य सभी मामलों के लिए, एयरलाइंस 15 दिनों के भीतर यात्री को एकत्रित राशि वापस करने के लिए सभी प्रयास करेगी। 

कांग्रेस ने यूपी के लिए घोषित की कमेटियां, गुटबाजी खत्म करने को नेताओं को किया एडजस्ट

उसने कहा, ‘‘यदि टिकट पहली लॉकडाउन अवधि (25 मार्च से 14 अप्रैल 2020) और दूसरी लॉकडाउन अवधि 25 मार्च से तीन मई, 2020 की यात्रा के लिए बुक की गई है तो एयरलाइन्स द्वारा तुरन्त पूरा किराया वापस किया जायेगा।’’ डीजीसीए ने कहा कि एयरलाइंस सहित हितधारकों के बीच विभिन्न दौर के विचार-विमर्श के बाद, वे दोनों यात्रियों और कंपनियों के हितों को ध्यान में रखते हुए एक प्रस्तावित व्यावहारिक समाधान पर पहुंचे हैं। 

कोरोना : 10 दवा कंपनियों के खिलाफ FIR करने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर

गत 12 जून को शीर्ष अदालत ने एनजीओ ‘प्रवासी लीगल सेल’ की एक जनहित याचिका की सुनवाई के दौरान केन्द्र, डीजीसीए और एयरलाइनों को कोविड-19 लॉकडाउन के बाद रद्द की गई घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के लिए पूरे किराये का भुगतान करने के तौर-तरीकों पर चर्चा करने को कहा था। 

‘दाऊद के व्यक्ति’ ने महाराष्ट्र के CM ठाकरे के घर पर किया फोन, बढ़ाई गई सुरक्षा

विमानन नियामक ने अपने हलफनामे में कहा है कि अगर एयरलाइंस वित्तीय संकट के कारण राशि वापस नहीं कर पाती हैं, तो वे एकत्र किए गए किराये के बराबर ‘क्रेडिट शेल’ प्रदान करेंगे और यह प्रत्यक्ष या ऑनलाइन समेत एजेंट के माध्यम से टिकट बुक कराने वाले यात्री के नाम पर जारी किया जाएगा। 

रिया चक्रवर्ती के साथ मीडियाकर्मियों की धक्का-मुक्की पर बॉलीवुड हस्तियों ने की आलोचना

नियामक ने यह भी प्रस्तावित किया कि क्रेडिट शेल किसी व्यक्ति को हस्तांतरित किया जाएगा।  शीर्ष अदालत ने 12 जून को केन्द्र से इस मुद्दे पर अपना रूख रखने और किराये की पूरी राशि वापस करने के तौर तरीकों पर चर्चा करने को कहा था।

 

 

कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरों को यहां पढ़ें...

comments

.
.
.
.
.