Wednesday, Jun 16, 2021
-->
ajit doval said swami vivekananda showed glory of hinduism to the world sohsnt

JNU: अजीत डोभाल बोले- शिकागो में विवेकानंद के संबोधन के बाद दुनिया ने हिंदुत्व को नए नजरिए से देखा

  • Updated on 1/13/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल (Ajit doval) ने मंगलवार को स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda) की 158वीं जयंती के उपलक्ष्य में जेएनयू (JNU) के छात्रों को संबोधित किया। उन्होंने 1893 में शिकागो में हुए सर्वधर्म सम्मेलन का जिक्र करते हुए कहा कि भारत की ओर से स्वामी विवेकानंद ने अपने अद्वितीय संबोधन के जरिए दुनिया को हिंदू धर्म की उच्च आध्यात्मिक सामग्री और महान गौरव का एहसास कराया।

सुप्रीम कोर्ट समिति के सदस्य मोदी सरकार समर्थक, हम नहीं होंगे पेश : किसान संगठन

युवा व्याख्यान कार्यक्रम में डोभाल ने कही ये बात
दरअलस, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने विवेकानंद की जयंती पर आयोजित हुए युवा व्याख्यान कार्यक्रम में बीते सोमवार को शिरकत की। इस मौके पर उन्होंने जेएनयू छात्रों को ऑनलाइन संबोधित करते हुए कहा 1893 में शिकागो में सर्वधर्म सम्मेलन हुआ था जिसमें स्वामी विवेकानंद ने अपने संबोधन के जरिए दुनियाभर के धर्म गुरूओं को प्रभावित किया। यही वो  समय था जब दनिया ने हिंदुत्व के देखना का अपना तरीका बदल दिया।

सीएम पद की दावेदारी के लिए प्रीतम, ह्रदयेश के नाम का करूंगा समर्थन : हरीश रावत 

भारतेंदू हरिश्चंद्र  को लेकर कही ये बात
डोभाल ने अपने संबोधन के दौरान न सिर्फ स्वामी विवेकानंद का जिक्र किया बल्कि भारतेंदू हरिश्चंद्र के योगदान का भी चर्चा की। उन्होंने बताया कि भारतेंदू जी ने भारत दुर्दशा लिखा। इसमें ब्रितानिया हुकूमत के दौरान भारत की दुर्दशा का वर्णन किया गया है। उन्होंने लिखा है कि भारत की दुर्दशा दिन ब दिन बिगड़ती जा रही है। हम भाग्यशाली हैं तो खुली हवा में जी रहे हैं।

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.