Saturday, Feb 27, 2021
-->
akhara parishad said that he will protest in nepal against pm oli statement on ayodhya sohsnt

'नकली अयोध्या' बयान पर अखाड़ा परिषद की नेपाल के PM को चेतावनी, कहा- सड़कों पर उतारेंगे लाखों संत

  • Updated on 7/14/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने चीन के इशारे पर एक बार फिर भारत के खिलाफ विवादित बयान दिया है। पीएम ओली ने दावा किया है कि भारत ने सांस्कृतिक अतिक्रमण के लिए नकली अयोध्या का निर्माण किया है, जबकि भगवान राम की असली अयोध्या नेपाल में है। उन्होंने दावा किया है कि भगवान राम नेपाली हैं। 

नेपाल के पीएम ने भगवान राम को बताया नेपाली, कहा- भारत ने बनाई नकली अयोध्या

भारतीय अखाड़ा परिषद की नेपाल को चेतावनी

पीएम ओली के इस बयान को लेकर भारतीय संतों में आक्रोश का माहौल है। ऐसे में भारतीय अखाड़ा परिषद ने नेपाल के प्रधानमंत्री के बयान पर कड़ी आपत्ति जताते हुए विशाल प्रदर्शन की चेतावनी दी है। परिषद ने इस मुद्दे पर नेपाल की सड़को पर प्रदर्शन करने का ऐलान किया है। 

पाल के PM ओली की कुर्सी बचाने की China आया आगे, राजदूत ने की राष्ट्रपति से मुलाकात

नेपाल में हमारे लाखों संत सड़कों पर उतरेंगे-गिरी

भारतीय अखाड़ा परिषद के महंत नरेंद्र गिरी ने नेपाल के पीएम केपी शर्मा ओली के विवादित बयान को लेकर कहा कि कल से नेपाल में हमारे लाखों संत सड़कों पर उतर आएंगे और महज एक माह में ओली को पीएम पद से इस्तीफा देना पड़ सकता है। मंहत ने आगे कहा कि नेपाल प्राचीन काल से एक हिंन्दू राष्ट्र था, लेकिन जबसे नेपान में माओवादियों का शासन आया है स्थित बदलती जा रही है।

नेपाल: सरकार बचाने में जुटे पीएम केपी शर्मा ओली, चीन की ले रहे मदद

भगवान राम के जन्म स्थान को लेकर ओली ने किया सवाल

उन्होंने पीएम के बयान की निंदा करते हुए कहा कि असली अयोध्या भारत में है। पीएम ओली को अपने इस विवादित बयान के लिए माफी मांगनी चहिए। भगवान राम के जन्म स्थान को लेकर ओली ने सवाल किया था कि उस दौरान कोई आधुनिक परिवहन का जरिया नहीं था, फोन सुविधा भी नहीं थी तो फिर राम जनकपुर तक कैसे आए?

नेपाली सुप्रीम कोर्ट का सवाल, नेपाली कामगारों के लिए भारत विदेश क्यों नहीं ?

भारत में जो अयोध्या है वो नकली है- ओली
उन्होंने कहा नेपाल पर सांस्कृतिक अत्याचार किया गया है। ऐसे बताया गया है कि हमने भारतीय राजा राम को सीता थी। उन्होंने आगे कहा, हमने भारत में स्थित अयोध्या के राजा राम को सीता नहीं दी, बल्कि नेपाल के अयोध्या के राजकुमार को दी थी। उन्होंने कहा भारत में जो अयोध्या है वो नकली है वास्तविक नहीं है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.