Friday, May 27, 2022
-->
akhilesh will contest the assembly elections sp promised to restore old pension scheme rkdsnt

अखिलेश लड़ेंगे विधानसभा चुनाव, सपा ने किया पुरानी पेंशन योजना बहाल करने का वादा

  • Updated on 1/20/2022


नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव में मैनपुरी जिले की करहल सीट से मैदान में उतरेंगे। सपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता आशुतोष वर्मा ने बताया कि अखिलेश मैनपुरी की करहल सीट से पार्टी के उम्मीदवार होंगे। अखिलेश इस समय आजमगढ़ से सांसद हैं और पहली बार विधानसभा का चुनाव लड़ेंगे। आज की घोषणा से पहले उनके अपने संसदीय निर्वाचन क्षेत्र की ही किसी विधानसभा सीट से चुनाव लडऩे की अटकलें लगायी जा रही थीं। इसके साथ ही अखिलेश ने पुरानी पेंशन बहाल करने का वादा किया है।

IAS (कैडर) नियमों में संशोधन : ममता ने फिर की पीएम मोदी से अपील, उमर भी नाराज

पार्टी सूत्रों के मुताबिक, सपा की मैनपुरी इकाई ने बृहस्पतिवार को सपा मुखिया को करहल सीट से चुनाव लडऩे की पेशकश की थी जिसे उन्होंने मंजूर कर लिया। करहल विधानसभा सीट पर समाजवादी पार्टी का पिछली सात बार से कब्जा रहा है। 2017 विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा की लहर के बावजूद सपा उम्मीदवार सोबरन यादव को इस सीट पर एक लाख से ज्यादा वोट मिले थे और उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी प्रेम शाक्य को 38 हजार से ज्यादा मतों से हराया था। 

पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए बसपा ने जारी की 14 उम्मीदवारों की सूची

गौरतलब है कि अखिलेश के पिता व सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव मैनपुरी से सांसद हैं। वह पांचवीं बार यहां से सांसद चुने गये हैं। मुलायम का करहल से गहरा नाता है। उन्होंने यहीं के जैन इंटर कॉलेज से शिक्षा ग्रहण की थी और वह यहां शिक्षक भी रहे। भाजपा ने अखिलेश की करहल सीट से चुनाव लडऩे पर प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कहा कि सपा अध्यक्ष अगर करहल को सुरक्षित सीट मानते हैं तो आगामी विधानसभा चुनाव में उनकी यह गलतफहमी दूर हो जाएगी। 

पंजाब विधानसभा चुनाव: धुरी से चुनाव लड़ेंगे AAP के CM पद के उम्मीदवार भगवंत मान

भारतीय जनता पार्टी की उत्तर प्रदेश इकाई के प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने कहा, 'अखिलेश को अगर यह लगता है कि करहल उनके लिए सुरक्षित सीट है तो यह उनकी गलतफहमी है, जो विधानसभा चुनाव में दूर हो जाएगी। उनके पिता मुलायम सिंह यादव बसपा अध्यक्ष मायावती की अपील के बाद किसी तरह से मैनपुरी लोकसभा सीट से चुनाव जीत पाए थे।

गोरखपुर से सीएम योगी के खिलाफ यूपी विधान चुनाव लड़ेंगे चंद्रशेखर आजाद 

इस बार भाजपा करहल में साइकिल को पंक्चर कर देगी ताकि वह एक्सप्रेस-वे के रास्ते लखनऊ न पहुंच सके।' करहल सीट पर 20 फरवरी को तीसरे चरण में मतदान होना है। अखिलेश पहली बार विधानसभा का चुनाव लड़ेंगे। इससे पहले जब वह मुख्यमंत्री थे, तब वह विधान परिषद के सदस्य चुने गए थे।

बुल्ली बाई ऐप मामला : पुलिस ने ओडिशा में MBA युवक को किया गिरफ्तार

उमा किरण छह साल के लिए सपा से निष्कासित 
समाजवादी पार्टी (सपा) ने प्रदेश की पूर्व कैबिनेट मंत्री उमा किरण को 'पार्टी विरोधी' गतिविधियों के आरोप में बृहस्पतिवार को छह साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया।सपा के जिला प्रमुख प्रमोद त्यागी ने किरण के निष्कासन के फैसले के बारे में जानकारी दी है। त्यागी ने कहा कि पार्टी विरोधी गतिविधियों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। किरण कथित रूप से टिकट मांग रही थी। टिकट नहीं दिए जाने को लेकर वह नाराका हो गई थी। उन्हें चंद्रशेखर आजाद नीत आजाद समाज पार्टी (के) ने पुरकाजी से टिकट दिया था। वह उनके साथ एक प्रेस वार्ता में भी दिखी थीं। 

यूपी चुनाव : BJP सांसद रीता बहुगुणा ने तेज की अपने बेटे को टिकट दिलाने की मुहिम


सपा ने गोंडा के जिलाधिकारी को हटाने की मांग की 
समाजवादी पार्टी (सपा) ने चुनाव आयोग से गोण्डा के जिलाधिकारी पर भाजपा कार्यकर्ता के रूप में काम करने का आरोप लगाते हुए उन्हें तत्काल प्रभाव से वहां से हटाने की मांग की है। सपा के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने बृहस्पतिवार को आयोग से की गयी शिकायत में आरोप लगाया है कि गोण्डा के जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही वर्तमान में कैसरगंज से भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह और गोण्डा सदर विधायक प्रतीक भूषण सिंह के इशारे पर और उनके दबाव में काम कर रहे हैं।

त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उत्तराखंड विधानसभा चुनाव लड़ने से किया इनकार, नड्डा को लिखा पत्र

पटेल ने शिकायत में कहा है कि जिलाधिकारी रिश्ते में क्षेत्रीय सांसद के समधी लगते हैं और सांसद के निजी कार्यक्रमों में शामिल होने रहे हैं। इससे चुनाव प्रभावित हो रहा है और आदर्श चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन हो रहा है। उन्होंने आयोग से मांग की है कि स्वतंत्र, निष्पक्ष और भयमुक्त तरीके से चुनाव सम्पन्न कराने के लिए गोण्डा के जिलाधिकारी शाही को तत्काल प्रभाव से उनके पद से हटाया जाए और जनपद से बाहर स्थानान्तरित किया जाए। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.