Wednesday, May 12, 2021
-->
akhilesh yadav appeal young people share flaws corona management on social media rkdsnt

अखिलेश यादव की अपील- कोरोना प्रबंधन की खामियों का सोशल मीडिया पर शेयर करें युवा

  • Updated on 4/30/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)की केंद्र और राज्य सरकार पर निशाना साधते हुए युवाओं से अपने को सुरक्षित रखते हुए देश व प्रदेश में कोरोना प्रबंधन की खामियों का ऑडियो-वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर जारी करने की अपील की है।  

यादव ने शुक्रवार को ट्वीट किया, ‘‘मैं देश व विशेषकर उत्तर प्रदेश के युवाओं से एक विशेष अपील करता हूं कि वो अपने को सुरक्षित रखते हुए देश-प्रदेश में हो रही ऑक्सीजन, बेड व दवाइयों की कमी को सोशल मीडिया पर ऑडियो-वीडियो, फोटो, ट्वीट के माध्यम से उजागर करें, शायद इससे ही सोती हुई भाजपा सरकार जागे।‘’ इससे पहले एक बयान में उन्होंने कहा,‘‘भारत में कोरोना महामारी के दौर में सरकारी अव्यवस्था को लेकर भाजपा सरकार की दुनिया भर में किरकिरी हो रही है।‘‘ 

शोएब इकबाल के बाद भाजपा सांसद ने की दिल्ली में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग

सपा मुख्यालय से शुक्रवार को जारी बयान में अखिलेश यादव ने दावा किया,‘‘कई देशो ने भारत यात्रा पर रोक लगा दी है तो कुछ ने अपने देशवासियों को भारत छोडऩे की एडवायजरी (परामर्श) जारी कर दी हैं।‘‘ यादव ने आरोप लगाया,‘‘वैश्विक स्तर पर इससे भारत की छवि खराब हो रही है लेकिन इस सबके बावजूद भाजपा सरकार अपनी ऐंठ एवं अहंकार में डूबी है, विपक्ष का सहयोग लेने के बजाय उनको बदनाम करने पर तुली है। विदेश में सरकारों ने जन सहयोग से संकट पर काबू पाया है पर यहां तो अकेले ही सब श्रेय लेने के चक्कर में मुख्यमंत्री तीसमार खां बने हुए हैं और जनता की सांसों से खिलवाड़ हो रहा है।’’ 

सर्जन डॉ. देवी प्रसाद शेट्टी ने कोरोना से निपटने की तैयारियों को लेकर भारत को चेताया

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि जिस तरह अस्पतालों में बिस्तर को लेकर मारामारी बची है, प्राणवायु ऑक्सीजन के लिए लोग दर-दर भटक रहे हैं, वह बेहद दुखद है। उन्होंने आरोप लगाया कि इलाज के लिए सलाह देने वाले डॉक्टरों और अस्पतालों के झूठे नंबर छपवाए जा रहे हैं, ऑक्सीजन आपूर्तिकर्ता फोन नम्बर बंद कर लेते हैं। सीएमओ (मुख्य चिकित्सा अधिकारी) कार्यालय में लालफीताशाही का जोर है और कहीं किसी की सुनवाई नहीं है। 

कोरोना महामारी में इंटरनेट पर मदद मांग रहे लोगों पर कोई रोक नहीं लगाई जाए : सुप्रीम कोर्ट

उन्होंने आरोप लगाया,‘‘मौत के आंकड़ों में भी खेल हो रहा है और सरेआम झूठ बोला जा रहा है। बस भाजपा राज में इलाज भले न मिले, अंत्येष्टि फ्री है।’’ यादव ने कहा कि भाजपा सरकार कितना अमानवीय हो सकती है इसका एक उदाहरण यह है कि पंचायती चुनावों में ड्यूटी कर रहे 706 शिक्षकों की सांसे थम गई और लगभग 10 हजार से ज्यादा शिक्षक कोरोना संक्रमण से ग्रसित हैं तो भी मतगणना में उनकी ड्यूटी लगाई जा रही है। 

पूर्व सांसद कमला प्रसाद रावत का निधन
उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री, दो बार सांसद और तीन बार विधायक रह चुके समाजवादी पार्टी के नेता कमला प्रसाद रावत (67) का लंबी बीमारी के बाद बृहस्पतिवार-शुक्रवार की दरमियानी रात एक अस्पताल में निधन हो गया। पारिवारिक सूत्रों के अनुसार कमला प्रसाद रावत जिले के मेयो हॉस्पिटल में भर्ती थे। रावत काफी समय से गुर्दे की बीमारी से पीड़ित थे। उन्होंने बताया कि रावत की डायलिसिस हो रही थी। वह पीजीआई, लखनऊ में भी भर्ती थे और डायलिसिस के बाद घर लौटे थे। 

अदालत की फटकार से आहत चुनाव आयोग, कहा- टिप्पणी से हुआ बेहद नुकसान

सूत्रों बताया कि बुधवार को उनकी तबीयत फिर बिगड़ी लिहाजा उन्हें अस्पताल में भर्ती करने की आवश्यकता हुई। उन्होंने बताया कि पीजीआई, लखनऊ में प्रयास करने के बाद भी उनको भर्ती नहीं कराया जा सका, लिहाजा उन्हें मेयो हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया जहां बृहस्पतिवार-शुक्रवार की दरिमयानी रात करीब डेढ़ बजे उनकी मृत्यु हो गई। थाना जहांगीराबाद क्षेत्र के ग्राम मुजफ्फरपुर गांव में छह जुलाई 1954 को जन्मे कमला रावत ने जिले के जवाहर लाल डिग्री कॉलेज से स्नातक की उपाधि प्राप्त की थी। 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें... 


 

comments

.
.
.
.
.