Sunday, Feb 28, 2021
-->
akhilesh yadav granting of bail by tazeen fatma a victory for those who trusted justice pragnt

अखिलेश यादव ने तजीन फातिमा की जमानत मंजूर होने को बताया बड़ी जीत, कही ये बात

  • Updated on 12/22/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। करीब दस महीने से जिला जेल में बंद समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) की विधायक और वरिष्ठ नेता आजम खान (Azam Khan) की पत्नी तजीन फातिमा (Tazeen Fatma) को अदालत के आदेश पर सोमवार शाम रिहा कर दिया गया। सपा अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने अपनी पार्टी की विधायक तजीन फातिमा को जमानत मिलने के बाद भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर निशाना साधते हुए कहा कि यह न्याय पर विश्वास करने वालों की जीत है।

DDC चुनाव परिणाम से पहले प्रशासन ने पूर्व मंत्री समेत 20 को लिया हिरासत में, महबूबा मुफ्ती भड़की

इंसाफ में एतबार करनेवालों की जीत- अखिलेश
अखिलेश ने ट्वीट किया, 'रामपुर से सांसद आजम खान की पत्नी तजीन फातिमा की जमानत ने साबित कर दिया है कि नफरत की सियासत करने वाले सच के आगे आखिर में हारते हैं।' यादव ने कहा, 'भाजपा झूठ के जिस रास्ते पर चल रही है, वह अन्याय की ओर जाता है और पतन की ओर ले जाता है। यह इंसाफ पर एतबार करने वालों की जीत है।' गौरतलब है कि फातिमा को अदालत के आदेश पर सोमवार शाम रिहा कर दिया गया, जबकि उनके पति आजम खान और बेटा अब्दुल्ला अभी जेल में हैं।

किसान आंदोलन पर कुमारी शैलजा ने केंद्र को घेरा, बोलीं- असंवेदनशीलता की हदें पार की

आजम खान की पत्नी तजीन फातिमा जेल से रिहा
रामपुर के सपा सांसद आजम खान की पत्नी और विधायक तजीन फातिमा को सोमवार को जमानत मिलने के बाद सीतापुर जेल से रिहा किया गया। फातिमा को उनके खिलाफ दर्ज मामलों में जमानत मिल गयी है, जबकि उनके पति आजम खान और बेटा अब्दुल्ला अभी भी जेल में हैं। जेल अधीक्षक डी. सी. मिश्रा ने बताया कि जेल प्रशासन ने आवश्यक कागजी कार्रवाई के बाद उन्हें रिहा कर दिया। रिहा होने के बाद फातिमा ने पत्रकारों से बातचीत मे कहा, 'मुझे दस महीने बाद इंसाफ मिला, मेरे पति आजम खान और बेटे को भी जल्द इंसाफ मिलेगा।'

यूरोपीय संघ से मिली इजाजत, अब कोविड का टीका बाजार में उतरेगा

जेल के अंदर मैंन किसी से बात नहीं की- फातिमा
उन्होंने कहा, 'मैं सरकारी कॉलेज में लेक्चरर थी और वहां मैंने सेवा की। मेरी सत्यनिष्ठा खुद सरकारी अधिकारियों ने प्रमाणित की थी। अचानक मैं अपराधी हो गई कि मेरे खिलाफ पचास मुकदमे दर्ज किए गए।' यह पूछने पर कि क्या इस बीच उनकी समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव से बात हुई, फातिमा ने कहा, 'जेल के अन्दर से मैंने या आजम साहब ने किसी से बात नहीं की।'

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.