Wednesday, Jan 19, 2022
-->
akhilesh-yadav-said-bjp-under-guise-of-samman-nidh-to-cause-loss-lakhs-farmers-rkdsnt

अखिलेश यादव बोले- ‘सम्मान निधि’की आड़ में किसानों का लाखों का नुकसान कराने की फिराक में भाजपा 

  • Updated on 12/27/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने रविवार को सत्तारूढ़ भाजपा पर अपने ‘प्रिय पूंजीपति मित्रों’ को किसानों पर तरजीह देने का आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार किसान सम्मान की नाममात्र धनराशि देने की आड़ में काले कृषि कानून लागू कर किसानों का हजारों-लाखों का नुकसान करना चाहती है।

मोदी सरकार ने बैंकों को बांड पर दिया 22,807 करोड़ रुपये का ब्याज

अखिलेश ने यहां एक बयान में कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार किसानों से बातचीत की पेशकश भी कर रही है और आंदोलनकारी किसानों पर तरह-तरह के अनर्गल आरोप भी लगा रही है। उन्होंने कहा कि यह अपने अधिकारों के लिए सड़क पर बैठे किसानों का अपमान है। 

केजरीवाल ने किसानों के बीच कृषि कानूनों को लेकर मोदी सरकार को जमकर कोसा

बयान के मुताबिक उन्होंने कहा, 'भाजपा भाजपा अपने प्रिय पूंजीपति मित्रों का समर्थन करते हुए ऐसे रास्ते पर चल पड़ी है जो किसान, मजदूर एवं निम्न मध्यम वर्ग के खिलाफ जाता है। सरकार किसान सम्मान की नाम मात्र धनराशि देने की आड़ में काले कृषि कानून लागू कर उनका हजारों-लाखों का नुकसान करना चाहती है।’’ 

सौरव गांगुली ने की राज्यपाल धनखड़ से मुलाकात, पश्चिम बंगाल में सियासी अटकलें तेज

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि देश में जबसे भाजपा की सरकारें बनी हैं तबसे किसानों के लिए संकट के हालात पैदा हो गए हैं। उन्होंने कहा कि मौजूदा किसान आंदोलन भाजपा सरकार की विफलता का जीता जागता उदाहरण है और इस आंदोलन में सपा किसानों के साथ खड़ी है। इस बीच, सपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने बताया कि पार्टी अध्यक्ष के निर्देश पर अलग-अलग जिलों के विभिन्न गांवों में ‘समाजवादी किसान घेरा अभियान’ के तीसरे दिन भी विधायकों, सांसदों, पूर्व विधायकों, पूर्व सांसदों, पूर्व मंत्रियों तथा जिलों के पदाधिकारियों ने इसमें हिस्सा लिया। 

झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन New Year 2021 में हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में देंगे भाषण

उन्होंने बताया कि इस दौरान पार्टी नेताओं ने गांवों में अलाव जलाकर चौपाल लगाई और किसानों के बीच उनकी समस्याओं पर चर्चा की। चौधरी ने बताया कि पिछली 25 दिसंबर से शुरू किया गया यह कार्यक्रम एक दिन में एक-दो गांवों का चयन कर चलाया जा रहा है। इस कार्यक्रम के तहत ज्यादा से ज्यादा गांवों तक पहुंचने का लक्ष्य तय किया गया है। 

नड्डा ने राहुल का पुराना वीडियो जारी किया, कांग्रेस ने पीएम मोदी के पुराने वीडियो पर उठाए सवाल

 

 

 

 

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.