Tuesday, Nov 30, 2021
-->
akhilesh-yadav-say-bjp-in-launching-foundation-stone-laying-program-due-defeat-fear-rkdsnt

अखिलेश बोले- हार के डर से लोकार्पण, शिलान्यास कार्यक्रम करने में जुटी है भाजपा  

  • Updated on 10/25/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सोमवार को कहा कि उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव में पराजय की आशंका की वजह से भाजपा जगह-जगह लोकार्पण और शिलान्यास कार्यक्रम आयोजित कर रही है। अखिलेश ने यहां संवाददाता सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा सिद्धार्थनगर में मेडिकल कॉलेज का लोकार्पण किए जाने के सवाल पर कहा, 'अब चुनाव नजदीक है और जनता भाजपा को हराने जा रही है इसीलिए इस पार्टी की सरकार इस तरह के कार्यक्रम आयोजित कर रही है।’’ उन्होंने सवाल किया कि आखिर क्या वजह है कि प्रदेश में मौजूद मेडिकल कॉलेजों को बजट नहीं दिया जा रहा है और पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर बन रहे उस चिकित्सा विश्वविद्यालय को अभी तक क्रियाशील नहीं किया गया है जिसकी शुरुआत खुद प्रधानमंत्री मोदी ने की थी।  

समीर वानखेड़े पर उठते सवालों के बीच NCB के सामने पेश नहीं हुईं अनन्या पांडे

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने पूछा कि आखिर सहारनपुर, बदायूं, आगरा, कानपुर, जौनपुर, फिरोजाबाद, झांसी, बांदा और आजमगढ़ के मेडिकल कॉलेजों, यहां तक कि लखनऊ की किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिर्विसटी को सरकार की तरफ से धन क्यों नहीं दिया जा रहा है। जब कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन, बेड, दवा और इलाज की जरूरत थी तब यह सरकार कहां थी? उन्होंने आरोप लगाया कि उस वक्त सरकार ने लोगों को अनाथ छोड़ दिया था।     उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर बनाई गई यूनिवर्सिटी राम मनोहर लोहिया इंस्टीट्यूट के नौवें तल से चलाई जा रही है और उसे भी वाजिब बजट नहीं दिया जा रहा है। उन्होंने सवाल उठाया कि पिछली सपा सरकार के कार्यकाल में बनाए गए लखनऊ स्थित कैंसर इंस्टीट्यूट को पिछले चार साल के दौरान क्यों नहीं खोला गया। उन्होंने दावा किया कि सच्चाई यह है, राज्य का स्वास्थ्य सुविधा संबंधी ढांचा ध्वस्त हो चुका है।  

अखाड़ा परिषद का अध्यक्ष बनने के बाद सीएम योगी के समर्थन में उतरे महंत रवींद्र पुरी 

अखिलेश ने यह भी कहा कि कुशीनगर में हाल ही में लोकार्पित किए गए अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के लिए धन उनकी सरकार के कार्यकाल में उपलब्ध कराया गया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के अन्य नेता उस हवाई अड्डे का उद्घाटन करने नहीं गए थे। वह उसे देखने गए थे और संभव है कि आने वाले दिनों में वे उस हवाई अड्डे को भी बेच डालें। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा छात्रों को टेबलेट वितरित किए जाने के ऐलान के बारे में अखिलेश ने कहा मुख्यमंत्री अब कह रहे हैं कि वह छात्रों को टेबलेट बांटेंगे, वह पिछले साढ़े चार सालों से क्या कर रहे थे। 

NCB अधिकारी समीर वानखेड़े के जन्म प्रमाणपत्र पर नवाब मलिक ने उठाए सवाल

किसानों की आय दोगुनी करने का वादा करने वाली केंद्र और उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकारों पर हमला करते हुए अखिलेश ने कहा कि किसानों की आमदनी दोगुनी करने के बजाय भाजपा ने महंगाई दोगुनी कर दी है। यह पार्टी अपने ही घोषणापत्र में किए गए तमाम वादे भूल चुकी है। अखिलेश ने आरोप लगाया कि किसानों को अपनी उपज का दाम नहीं मिल रहा है। लखीमपुर में एक सरकारी केंद्र पर अपनी फसल नहीं खरीदे जाने से निराश एक किसान ने उसमें आग लगा दी। किसान यह जानना चाहते हैं कि उन्हें उनके उपज का वाजिब दाम मिलेगा या नहीं। सरकार का कोई भी व्यक्ति इसका जवाब देने को राजी नहीं है। उन्होंने कहा कि भाजपा का कमल झूठ और फरेब के दलदल में खिलता है। 

NCB अधिकारी वानखेड़े के बचाव में उतरे केंद्रीय मंत्री आठवले

उन्होंने कहा कि ललितपुर में खाद खरीदने के लिए लाइन में लगे एक किसान की मौत हो गई। सरकार आखिर उर्वरक क्यों नहीं खरीद रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार हवाई अड्डे, बंदरगाह, जमीन और अन्य चीजों को निजी कंपनियों के हाथ बेच रही है और उत्तर प्रदेश की मौजूदा सरकार के कार्यकाल में भ्रष्टाचार चरम पर पहुंच गया है। सपा अध्यक्ष ने कहा कि उत्तर प्रदेश और पंजाब के विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में भाजपा विवादास्पद कृषि कानून वापस ले सकती है और चुनाव के बाद नए कानून ला सकती है। 

राहुल बोले- पेट्रोल के दामों पर टैक्स डकैती बढ़ती जा रही है, कहीं चुनाव हों तो... 


 

comments

.
.
.
.
.