Sunday, Aug 01, 2021
-->
akhilesh yadav sp says in 2019 alliance with bjp was necessary to stop bjp rkdsnt

BJP को रोकने के लिए 2019 में जरूरी था BJP से गठबंधन : अखिलेश

  • Updated on 11/2/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सोमवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी और बहुजन समाज पार्टी की एक ही चाहत समाजवादी पार्टी को हराना है। उन्होंने योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली राज्य सरकार और बसपा पर जमकर प्रहार किया।

उत्तर प्रदेश की 7 सीटों के लिए भी थमा चुनाव प्रचार, मतदान के लिए तैयारी पूरी 

उन्नाव की पूर्व सांसद अनु टंडन को सोमवार को सपा में शामिल कराने के बाद अखिलेश यादव ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि ‘‘सांप्रदायिक’’ भाजपा को रोकने के लिए 2019 में बसपा के साथ गठबंधन करना जरूरी था। अखिलेश ने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि डॉक्टर राम मनोहर लोहिया और डॉक्टर भीम राव आंबेडकर की विचारधारा एक रथ के दो पहिए की तरह है, इसीलिए बसपा के साथ गठबंधन किया था।’’ 

माकपा ने पीएम स्वनिधि योजना को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा

राज्य की सात विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव को ‘लिटमस टेस्ट ’बताते हुए अखिलेश ने कहा कि जनता भाजपा को सबक सिखाने के लिए समय का इंतजार कर रही है। मायावती ने सोमवार की सुबह मीडिया से बातचीत में आरोप लगाया, ‘‘ उप चुनाव में सपा और कांग्रेस हमारी पार्टी के खिलाफ साजिश में जुटी है और गलत ढंग से प्रचार कर रही है ताकि मुस्लिम समाज के लोग बसपा से अलग हो जाएं।’’ मायावती ने यह भी कहा कि बसपा कभी भाजपा के साथ समझौता नहीं कर सकती है। 

मध्य प्रदेश उपचुनाव : भाजपा सांसद सिंधिया ने गलती से कांग्रेस के लिए मांगे वोट

पूर्व सांसद अनु टंडन ने हाल में प्रदेश नेतृत्व पर आरोप लगाते हुए कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया था। इसके पहले पूर्व केंद्रीय मंत्री सलीम शेरवानी और पूर्व बसपा सांसद त्रिभुवन दत्त समेत कई प्रमुख नेताओं ने समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की थी। अखिलेश ने मुख्यमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेश में ऐसी सरकार नहीं होनी चाहिए जिसकी भाषा और शब्?दों का चयन ठीक न हो। 

चुनावों के बाद नीतीश छोड़ देंगे राजग, 2024 में मोदी को देंगे चुनौती: चिराग

उन्होंने कहा, ‘‘सरकार चलाने वालों की भाषा ‘ठोको’ है और सच यह है कि ठोको नीति वाले सरकार चला रहे हैं। सरकार के पास प्रदेश चलाने का विजन नहीं है।’’ उन्होंने कहा कि सपा नेता आजम खान और मुनव्वर राना के खिलाफ सरकार के निर्देश पर अधिकारियों ने कार्रवाई की है, जो अनुचित है। अखिलेश यादव ने आरोप लगाया कि भाजपा ने दलितों का बहुत नुकसान किया है। सरकार न विकास पर चर्चा करना चाहती है और न ही किसानों की बात करना चाहती है। कोरोना काल में लोगों को इलाज तक नहीं मिल रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा को रोकना है और इसके लिए सबको जोडऩे की जरूरत है। 

 बिहार : मुंगेर कांड को लेकर पुलिसकर्मियों के खिलाफ FIR दर्ज

इस मौके पर अनु टंडन ने कहा कि सपा प्रमुख ने जो विकास कार्य किया है वह एक कार्यकाल में संभव नहीं था। उन्?होंने कहा, ‘‘सपा में आये हैं तो अखिलेश यादव को पुन: मुख्यमंत्री बनाना हमारा लक्ष्य है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैंने सोनिया गांधी और राहुल गांधी के साथ काम किया लेकिन 2019 के बाद स्थिति बदल गई।’’ प्रियंका गांधी वाद्रा से नाराजगी के सवाल पर अनु ने कहा ‘‘मुझे उनके साथ काम करने का मौका नहीं मिला।’’

 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...


 

comments

.
.
.
.
.