Wednesday, Feb 19, 2020
akhilesh yadav those who understand the soul of the country are opposing caa

देश की आत्मा को समझने वाले कर रहे हैं सीएए का विरोध: अखिलेश

  • Updated on 1/22/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के खिलाफ धर्म के आधार पर भेदभाव करने का आरोप लगाते हुए सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने बुधवार को कहा कि न सिर्फ उनकी पार्टी बल्कि देश की आत्मा को समझने वाले सभी लोग संशोधित नागरिकता कानून (Citizenship Amendment Act) का विरोध कर रहे हैं।

Video: मरीजों देखने पहुंचे अखिलेश डॉक्टर्स पर भड़के, कहा- बाहर भाग जाओ

महात्मा गांधी और भीमराव आंबेडकर भेदभाव के खिलाफ थे
अखिलेश ने कहा कि जहां तक सीएए का सवाल है, केवल सपा ही नहीं बल्कि देश की आत्मा को समझने वाला हर व्यक्ति इसका विरोध कर रहा है। उन्होंने कहा मुझे खुशी है कि महिलाओं ने बढ़त ली और बडी संख्या में युवा भी प्रदर्शन कर रहे हैं।

पार्टी नेता जनेश्वर मिश्र की पुण्यतिथि पर उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण के बाद अखिलेश ने कहा कि महात्मा गांधी और भीमराव आंबेडकर भेदभाव के खिलाफ थे।

अखिलेश यादव बोले- CAA पर सरकार नहीं मानी तो होगी महाभारत

भाजपा संविधान से खिलवाड़ कर रही है
अखिलेश ने कहा कि भाजपा धर्म के नाम पर भेदभाव कर रही है और समाज को बांट रही है। भाजपा संविधान से खिलवाड़ कर रही है क्योंकि उसके पास बहुमत है, लेकिन बहुमत से वे आम आदमी की आवाज को दबा नहीं पाएंगे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बारे में अखिलेश ने कहा कि योगी अपने भाषणों में कहते हैं,‘ठोंक दिया जाएगा। यह किसी राजनेता की भाषा नहीं हो सकती है। भाजपा ने वोट की खातिर चुनावी रैलियों के दौरान कब्रिस्तान और श्मशान तथा दीवाली और रमजान का मुददा उठाया ।

योगी ने प्रियंका पर साधा निशाना, कहा- उपद्रवियों और दंगाइयों के साथ क्यों खड़ी कांग्रेस

पहले भी सरकार पर हमलावर हुए थे अखिलेश
बता दें कि इससे पहले भी अखिलेश सीएए को लेकर सरकार पर हमलावर हुए थे। अखिलेश यादव ने संशोधित नागरिकता कानून वापस लेने के बारे में गृह मंत्री अमित शाह के ‘एक इंच भी पीछे नहीं हटने के बयान’ पर कहा था कि अगर सरकार नहीं मानी तो महाभारत होगी।

CAA व NRC के विरोध में सपा ने निकाला साइकिल मार्च, बीजेपी पर साधा निशाना

महाभारत का उदाहरण
दरअसल अखिलेश ने एक विवाह समारोह से इतर बात चीत करते हुए सीएए पर एक इंच भी पीछे नहीं हटने के शाह के बयान पर पूछे गए सवाल के जवाब में कहा था कि आपने महाभारत पढ़ी है? उसमें भी कहा गया था कि सूई की नोक बराबर भी जमीन नहीं देंगे। उसके बाद क्या हुआ? सीएए पर अगर सरकार नहीं मानी तो महाभारत होगी। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.