Sunday, Feb 28, 2021
-->
amar singh blamed only chidambaram congress for sinking indian economy

अमर सिंह ने डूबती इकॉनमी के लिए सिर्फ चिदम्बरम को ठहराया जिम्मेदार

  • Updated on 3/7/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। राज्यसभा सांसद अमर सिंह (Amar Singh,) ने एक वीडियो जारी कर आरोप लगाया है कि देश की अर्थव्यवस्था की वर्तमान हालत के लिए पूर्व वित्तमंत्री पी. चिदम्बरम जिम्मेदार हैं। सोशल मीडिया पर अमर सिंह का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें अमर सिंह अपनी बात कहते नजर आ रहे हैं। अमर सिंह लंबे समय से सिंगापुर के एक अस्पताल में हैं और अपना इलाज करा रहे हैं। 

अब भ्रष्टाचारी बाबुओं को नहीं दिया जाएगा पासपोर्ट, होगी कानूनी कार्रवाई

सिंगापुर में इलाज करा रहे नेता ने जारी किया वीडियो
जब राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर आर्थिक हालात के लिए आरोप लगाए तो अमर सिंह ने यह वीडियो जारी किया। वीडियो में अमर सिंह कहते दिख रहे हैं- राहुल जी, आपके चिदम्बरम ने कॉर्पोरेट्स को रुपया ऐसे बांटा जैसे उनके बाप का माल हो। आपके पूर्व वित्तमंत्री  बैंकों और इकॉनमी की बदहाली के लिए जिम्मेदार हैं।

इसके लिए आप मुझे नहीं बल्कि अपने पूर्व सहयोगी को सुनिए। वीडियो में अमर सिंह ने आगे कहा- राहुल जी, मेरा आपको सुझाव है वीडियोकॉन के वेणुगोपाल धूत, रिलायंस के अनिल अंबानी जिन्हें आप मोदी का घनिष्ठ मित्र बताते हैं, वे सबसे अधिक घनिष्ठ मित्र आपके वित्तमंत्री चिदम्बरम के हैं। इसके ठोस सबूत मेरे पास हैं। आप जब कहेंगे दिखा दूंगा। 

बांटे गए अंधाधुंध लोन के मेरे पास सबूत हैं
इसके अलावा भूषण स्टील और दीवान हाऊसिंग तमाम जो कॉर्पोरेट हैं, उनको किस अवधि में पैसा दिया गया है कि अरबों-खरबों रुपए एन.पी.ए. हो गया है। अमर सिंह ने कहा कि वेणुगोपाल धूत कौन सी सुविधा का इस्तेमाल करके चिदम्बरम जी को पटाते थे यह बोलने में भी शर्म आती है। इसके भी सबूत हैं मेरे पास। 

आप यह देखिए जो रुपए एन.पी.ए. हो गए हैं, जिसकी रिकवरी के लिए मोदी जी ङ्क्षचतित हैं, वे तमाम राशियां यू.पी.ए.-2 के शासनकाल में किस व्यक्ति के अधीन अंधाधुध बांटी गईं। अगर चिदम्बरम ने पैसा न बांटा हो तो श्वेतपत्र जारी करवा दीजिए।

मूडीज ने येस बैंक की रेटिंग घटाई
नई दिल्ली: मूडीज इन्वेस्टर्स र्सिवस ने शुक्रवार को येस बैंक लिमिटेड की रेटिंग को घटा दिया है। मूडीज ने येस बैंक लिमिटेड की दीर्घकालिक विदेशी मुद्रा जारीकर्ता रेटिंग को बी2 से घटाकर सीएए3 कर दिया और कहा, ‘अनिश्चित दिशा के साथ रेटिंग समीक्षाधीन रहेगी।’ मूडीज ने बैंक की दीर्घकालिक विदेशी और स्थानीय मुद्रा बैंक जमा रेटिंग को भी घटा दिया है।

इन कंपनियों को येस बैंक ने दिया था कर्ज
सीतारमण ने कहा कि अनिल अंबानी समूह, एस्सेल, डीएचएफएल, आई.एल.एफ.एस., वोडाफोन उन संकटग्रस्त कंपनियों में शामिल हैं, जिन्हें येस बैंक ने कर्ज दिया था।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.