Saturday, Jan 22, 2022
-->
amarinder-singh-says-review-court-order-banning-agricultural-laws-advocate-general-rkdsnt

कृषि कानूनों पर रोक लगाने के न्यायालय के आदेश की समीक्षा करें महाधिवक्ता: अमरिन्दर सिंह 

  • Updated on 1/12/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिन्दर सिंह ने मंगलवार को राज्य के महाधिवक्ता को नए कृषि कानूनों पर रोक लगाने के उच्चतम न्यायालय के आदेश की विस्तारपूर्वक समीक्षा करने का निर्देश दिया है। साथ ही उन्होंने इस मुद्दे पर चर्चा के लिये मंत्रिमंडल की बैठक बुलाई है। मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार रवीन ठुकराल ने यह जानकारी दी। 

सिंह ने उच्चतम न्यायालय के आदेश की पेचीदगियों पर चर्चा करने के लिये बृहस्पतिवार को मंत्रिमंडल की बैठक बुलाई है। ठुकराल ने ट्वीट किया,‘‘पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिन्दर सिंह ने महाधिवक्ता अतुल नंदा को कृषि कानूनों पर आज सुनाए गए उच्चतम न्यायालय के फैसले की विस्तारपूर्वक समीक्षा करने के लिये कहा है।‘‘ 

2021 में भी बैंकों के NPA को लेकर अलर्ट करने वाली है RBI की रिपोर्ट

इससे पहले दिन में, उच्चतम न्यायालय ने अगले आदेश तक नए कृषि कानूनों के कार्यान्वयन पर रोक लगाने का आदेश दिया और कानूनों को लेकर केन्द्र सरकार तथा दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रही किसान यूनियनों के बीच गतिरोध खत्म करने के लिये चार सदस्यीय समिति गठित करने का फैसला किया। 

पीएम मोदी ने किया साफ- पहले चरण में कोरोना टीकाकरण का खर्च उठाएगी केंद्र सरकार

न्यायालय द्वारा गठित समिति के सदस्यों में भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष भूपिन्दर सिंह मान, शेतकारी संगठन के अध्यक्ष अनिल घनवंत, दक्षिण एशिया के अंतरराष्ट्रीय खाद्य नीति एवं अनुसंधान संस्थान के निदेशक डॉ प्रमोद जोशी और कृषि अर्थशास्त्री तथा कृषि लागत और मूल्य आयोग के पूर्व अध्यक्ष अशोक गुलाटी शामिल हैं। अदालत ने तीन कृषि कानूनों की संवैधानिक वैधता को चुनौती देने वाली विभिन्न याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए इनके कार्यान्वयन पर रोक लगाई है।

स्मृति ईरानी मामले में अब 16 जनवरी को होगी सुनवाई, वर्तिका ने लगाए हैं पैसे मांगने के आरोप

 

 

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

 

 

comments

.
.
.
.
.