Tuesday, Oct 26, 2021
-->
ambani reliance industries clarified after invesco''''s buyout on zee entertainment rkdsnt

जी एंटरटेनमेंट को लेकर इनवेस्को के बयान के बाद रिलायंस इंडस्ट्रीज ने दी सफाई

  • Updated on 10/13/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। रिलायंस इंडस्ट्रीज ने बुधवार को कहा कि उसने कुछ महीने पहले ही एंटरटेनमेंट के साथ अपनी मीडिया संपत्तियों के विलय का प्रस्ताव रखा था लेकिन संस्थापकों की हिस्सेदारी को लेकर मतभेदों के उसने इस प्रस्ताव को छोड़ दिया था। अरबपति मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस की तरफ से यह बयान जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड की सबसे बड़ी शेयरधारक इनवेस्को के बयान के बाद आया है।  

ओवैसी पर सावरकर के पौत्र का पलटवार, बोले- 'मैं नहीं सोचता कि गांधी भारत के राष्ट्रपिता हैं!'

रिलायंस ने एक बयान में कहा, ‘‘फरवरी/मार्च 2021 में इनवेस्को ने हमारे प्रतिनिधियों और जी एंटरटेनमेंट के प्रबंध निदेशक एवं प्रवर्तक परिवार के सदस्य पुनीत गोयनका के बीच सीधे चर्चा की व्यवस्था करने में रिलायंस की सहायता की थी।’’ उसने कहा, ‘‘हमने काी एंटरटेनमेंट और अपनी सभी संपत्तियों के उचित मूल्यांकन पर काी के साथ अपनी मीडिया संपत्तियों के विलय के लिए एक व्यापक प्रस्ताव रखा था।’’ 

 लखीमपुर मामले में आरोपी आशीष का दोस्त अंकित दास गिरफ्तार, SIT की पूछताछ जारी 

रिलायंस गोयनका सहित मौजूदा प्रबंधन को बनाए रखना चाहती थी, जिसे हटाने की मांग काी एंटरटेन्मेंट की सबसे बड़े शेयरधारक इनवेस्को ने की है। रिलायंस इंडस्ट्रीज ने कहा, ‘‘हम हमेशा निवेश करने वाली कंपनियों के मौजूदा प्रबंधन को जारी रखने का प्रयास करता है और उन्हें उनके प्रदर्शन के लिए पुरस्कृत करते हैं। प्रस्ताव में गोयनका को प्रबंध निदेशक के रूप में जारी रखना और गोयनका समेत प्रबंधन को इसॉप जारी करना शामिल था।’’ 

आर्यन खान ड्रग्स केस में नवाब मलिक के बाद शरद पवार NCB के खिलाफ खोला मोर्चा

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.