Sunday, May 22, 2022
-->
ambassadors of 22 countries attended sita navami festival

22 देशों के राजदूत सीता नवमी महोत्सव में हुए शामिल

  • Updated on 5/10/2022

22 देशों के राजदूत सीता नवमी महोत्सव में हुए शामिल
-एनडीएमसी कन्वेंशन सेंटर में मनाया गया सीता नवमी
नई दिल्ली/टीम डिजिटल।

भारतीय संस्कृति के विलुप्त होते हुए त्योहारों को पुनर्जीवित करने की मुहिम में मंगलवार को नई दिल्ली स्थित एनडीएमसी कन्वेंशन सेंटर में सीता नवमी महोत्सव का आयोजन किया गया। यह आयोजन नारी सशक्तिकरण से जोड़ते हुए किया गया।

इसमेंं 22 देशों के राजदूत शामिल हुए। सीता नवमी महोत्सव के आयोजक और राष्ट्र मंदिर के संस्थापक अजय ने कहा कि वर्तमान में मिथिलांचल, पूर्वांचल, जनकपुर को छोडक़र अधिकांश लोग इस त्योहार को भूल चुके हैं। उन्होंने कहा कि यह आयोजन ऐसे ही विलुप्त होते हुए त्योहारों को पुनर्जीवित करने की एक मुहिम है। वहीं, संस्था के संयोजक और ओरछा के राजा राम की लीला के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. वेद टंडन ने बताया कि कार्यक्रम का आयोजन बहुत भी भव्य रूप से किया गया, जिसमें भारी संख्या में देश-विदेश के गणमान्य शामिल हुए।

उन्होंने कहा कि सशक्तिकरण के लिए बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ इस ध्येय वाक्य की व्यवहारिक जागरूकता वर्तमान समय की प्रबल आवश्यकता है। डॉ. वेद टंडन ने बताया कि इस विषय के व्यवहारिक पक्ष के लिए सीता नवमी को नारी सशक्तिकरण से जोड़ते हुए राष्ट्र के सर्वांगीण विकास के लिए गृहणी से लेकर विभिन्न क्षेत्रों में अपनी उत्कृष्ट सेवा प्रदान करने वाली विभिन्न महिलाओं के सम्मानार्थ श्री शक्ति सम्मान समारोह का प्रारंभ किया जा रहा है।

डॉ. वेद टंडन ने बताया कि कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहीं, वहीं, विशिष्ट जन स्वामी चिदानंद, माता भगवती देवी, महामंडलेश्वर कैलाश, भाजपा सांसद हंस राज हंस और मनोजी तिवारी, दुष्यंत गौतम, विश्व हिंदू परिषद के प्रमुख आलोक कुमार, वरिष्ठ भाजपा नेता सुधांशु मित्तल, श्याम जाजू सहित एनडीएमसी उपाध्यक्ष सतीश उपाध्याय व विभिन्न तीर्थों से प्रमुख संत व गणमान्य कार्यक्रम उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन संजीव शर्मा ने किया।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.