Sunday, Sep 19, 2021
-->
america welcomed steps to economic and political situation in jammu kashmir pragnt

कश्मीर के आर्थिक एवं सियासी हालात को लेकर उठाए गए कदमों की अमेरिका ने की तारीफ

  • Updated on 3/4/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारत (India) द्वारा अपने केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के आर्थिक एवं सियासी हालात को पूर्ण रूप से सामान्य करने की दिशा में उठाए गए कदमों का अमेरिका (America) ने स्वागत किया। विदेश विभाग के प्रवक्ता नेड प्राइस ने कहा कि अमेरिका जम्मू-कश्मीर में बदलते हालात पर लगातार नजर रख रहा है। उन्होंने दैनिक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि कश्मीर के संबंध में अमेरिकी नीति में कोई बदलाव नहीं आया है।

केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर में अवैध रुप से रह रहे रोहिंग्या मुसलमानों को वापस भेजने की तैयारी की

विदेश विभाग प्रवक्ता ने कहा ये
प्राइस ने कहा, 'भारत के लोकतांत्रिक मूल्यों के अनुरूप केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में आर्थिक और सियासी हालात को पूरी तरह से सामान्य करने के लिए उठाए गए कदमों का हम स्वागत करते हैं। जैसा कि हमने पहले कहा है, विदेश मंत्री टोनी ब्लिंकेन को अपने भारतीय समकक्ष के साथ द्विपक्षीय रूप से और क्वाड के जरिए बात करने के अवसर मिले हैं।' 'क्वाड' भारत, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और जापान का समूह है, जिसका उद्देश्य हिंद-प्रशांत को मुक्त क्षेत्र सुनिश्चित करना है।

चीन की चेतावनी- अलगाववादी ताकतों का समर्थन बंद करे अमेरिका

भारत- पाक के साथ है महत्वपूर्ण संबंध
प्राइस ने कहा कि अमेरिका का भारत और पाकिस्तान के साथ भी महत्वपूर्ण संबंध है। उन्होंने कहा, 'हमारे विचार से ये संबंध अपने बूते पर कायम हैं।' उन्होंने कहा, 'जब अमेरिका की विदेश नीति की बात आती है तो यह एक का लाभ और दूसरे की हानि का विषय नहीं होता है। हमारे बीच लाभकारी और रचनात्मक संबंध हैं और ऐसे संबंधों में एक के साथ हमारे संबंधों से दूसरे की अहमियत कम नहीं होती। इसमें एक के साथ हमारे संबंध दूसरे की कीमत पर नहीं होते।'

अमेरिकी सदन में सिटीजनशिप बिल पेश, भारतीयों को जल्द मिलेगी नागरिकता

पाकिस्तान के साथ भी करेंगे काम
उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा, 'जब भारत की बात आती है तो हमारे बीच वैश्विक व्यापक रणनीतिक साझेदारी है। जब पाकिस्तान की बात आती है तो इस बारे में मैंने पहले कहा था कि क्षेत्र में हमारे महत्वपूर्ण साझा हित हैं और इन साझा हितों पर हम पाकिस्तानी अधिकारियों के साथ मिलकर काम करना जारी रखेंगे।' प्राइस ने कहा कि अमेरिका कश्मीर मुद्दे और अन्य विषयों पर भारत और पाकिस्तान के बीच सीधी वार्ता का समर्थन करता है।

मेरा सपना भारत और पाकिस्तान को ‘अच्छे दोस्त’ बनते देखना है: मलाला यूसुफजई

भारत के साथ सभी मुद्दों का शांतिपूर्ण समाधान चाहता है पाक
गौरतलब है कि पाकिस्तान ने पिछले शुक्रवार को कहा था कि वह भारत के साथ सभी मुद्दों का शांतिपूर्ण समाधान चाहता है, जिसमें कश्मीर मुद्दा भी शामिल है और संघर्षविराम को लेकर हाल में बनी सहमति इस्लामाबाद द्वारा उल्लेखित रुख के अनुरूप है। तनाव कम करने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम के तहत भारत और पाकिस्तान की सेनाओं ने बृहस्पतिवार को कहा कि वे नियंत्रण रेखा (एलओसी) और अन्य क्षेत्रों में संघर्षविराम पर सभी समझौतों का सख्ती से पालन करने के लिए सहमत हुई हैं।

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें... 

comments

.
.
.
.
.