Thursday, Feb 09, 2023
-->
amit-shah-bjp-get-green-signal-for-kolkata-rally-mamata-in-touch-with-opposition-parties

अमित शाह की कोलकाता में रैली को हरी झंडी, विपक्षी दलों के संपर्क में ममता

  • Updated on 8/1/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह 11 अगस्त को कोलकाता में रैली करेंगे। कोलकाता पुलिस ने रैली के लिए अनुमति दे दी है। इसके साथ ही भाजपा के नेताओं ने संकेत दिए हैं कि वे पश्चिम बंगाल में अवैध बांग्लादेशी प्रवासियों की मौजूदगी को चुनावी मुद्दा बनाएंगे और असम की तरह एनआरसी की मांग करेंगे। उधर, राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) को लेकर भाजपा का मुकाबला करने के लिए टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी राष्ट्रीय राजधानी में विपक्षी दलों के नेताओं से वार्ता कर रही हैं।

मेनका गांधी बोलीं- छात्रवृत्ति खातों पर लगाया गया जुर्माना वापस होगा

शाह की प्रस्तावित रैली से पता चलता है कि वह उनके राज्य में इस मुद्दे को बड़ा चुनावी मुद्दा बनाएंगे, क्योंकि लोकसभा चुनाव के लिए महज 8 महीने बचे हैं। इससे पहले शाह ने संवाददाताओं से कहा कि वह निश्चित तौर पर 11 अगस्त को कोलकाता जाएंगे और राज्य सरकार को अपनी गिरफ्तारी की चुनौती देंगे। उनकी पार्टी के नेताओं ने दावा किया था कि स्थानीय पुलिस ने उनकी रैली के लिए मंजूरी नहीं दी है।

मुजफ्फरपुर यौन शोषण मामले के मुख्य आरोपी ब्रजेश से PIB ने भी पल्ला झाड़ा

भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने मीडिया से कहा कि पश्चिम बंगाल में एक करोड़ से ज्यादा अवैध प्रवासी हो सकते हैं। ऐसे में उन्होंने सुझाव दिया कि उनकी पहचान के लिए सीमावर्ती राज्यों में एनआरसी होना चाहिए। प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष ने पहले कहा था कि अगर भाजपा राज्य में सत्ता में आती है तो असम की तर्ज पर एनआरसी का प्रकाशन किया जाएगा।

NRC से नाम हटने को लेकर फैले भ्रम को चुनाव आयोग ने किया साफ

अमित शाह ने पश्चिम बंगाल में आगामी लोकसभा चुनाव के दौरान लोकसभा की 42 सीटों में से 22 पर जीत का लक्ष्य रखा है। 2014 में टीएमसी ने 34 सीटों पर जीत दर्ज की थी, वहीं भाजपा को महज 2 सीटें मिली थीं। भाजपा में इस तरह की भावना है कि एनआरसी का कड़ा विरोध करने की वजह से बनर्जी को अल्पसंख्यक वोटों के लिए ‘‘तुष्टिकरण की राजनीति’’ के तहत हिंदू विरोधी नेता के तौर पर पेश किया जा सकता है।

ममता बनर्जी ने NRC मसले पर फिर दिखाए तेवर, साधा भाजपा पर निशाना

शाह युवा मोर्चा की ओर से आयोजित रैली को संबोधित करेंगे। इससे पहले भाजपा युवा मोर्चा ने आरोप लगाया कि शाह की रैली के बारे में उन्हें कोलकाता पुलिस से अभी तक कोई जानकारी नहीं मिली है। सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने भाजपा और शाह पर तंज कसते हुए दावा किया कि वे बेचैन हो गए थे और ‘‘शांति और सौहार्दता की भूमि पर उनके लिए सुखद यात्रा’’ की कामना की।

आम्रपाली ग्रुप को सुप्रीम कोर्ट ने दिया करारा झटका, कुर्की का आदेश

कोलकाता पुलिस ने ट्वीट कर बताया, ‘‘एक राजनीतिक दल को 11 अगस्त को अनुमति नहीं देने के लिए सोशल मीडिया पर चल रही अटकलों का हमें पता चला। यह स्पष्ट किया जाता है कि आग्रह पर रैली की अनुमति दे दी गई है।’’ राज्य भाजपा युवा मोर्चा के अध्यक्ष देबजीत सरकार ने कहा कि उन्हें पुलिस ने सूचना दी है कि शहर के मध्य मायो रोड पर रैली करने की अनुमति दे दी गई है।

मुजफ्फरपुर बालिका यौन उत्पीड़न कांड पर CM नीतीश चुप, राज्यपाल हुए सक्रिय

सरकार ने पहले पीटीआई से कहा था कि शाह की रैली की अनुमति के लिए संगठन ने पुलिस को औपचारिक आवेदन दिया है। भगवा दल द्वारा तृणमूल कांग्रेस के गढ़ में सेंध लगाने के प्रयासों के बीच ममता बनर्जी नीत तृणमूल कांग्रेस और भाजपा के बीच तीखे आरोप-प्रत्यारोप जारी हैं। तृणमूल कांग्रेस के मुख्य राष्ट्रीय प्रवक्ता डेरेक ओ ब्रायन ने कहा, 'भाजपा और इसके राष्ट्रीय अध्यक्ष बेचैन, तनावग्रस्त हो गए हैं। कोलकाता में 3 अगस्त के लिए उनके कार्यक्रम को त्वरित अनुमति दे दी गई थी। 11 अगस्त के कार्यक्रम के लिए उन्होंने सिर्फ पत्र भेजा था और अनुमति दे दी गई।'

LIC-IDBI बैंक समझौते को मोदी मंत्रिमंडल की मंजूरी, कर्मचारी हैं खफा

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.