Sunday, Nov 28, 2021
-->
amit shah breaks silence farmer movement says bjp modi government ready talks rkdsnt

विरोध-प्रदर्शन के बाद अमित शाह बातचीत को तैयार, किसान संगठन कर रहे हैं मंथन

  • Updated on 11/28/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। किसान आंदोलन को लेकर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने चुप्पी तोड़ दी है। इसके साथ ही उन्होंने साफ कर दिया है कि सरकार बातचीत को तैयार है। अमित शाह ने साफ कर दिया है कि कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे किसान दिल्ली में निरंकारी मैदान में बातचीत कर सकती है। इस बीच किसान संगठनों ने बातचीत की पहल का स्वागत किया है, लेकिन शर्त उन्हें मंजूर नही हैं। इस संबंध में आखिरी फैसला लेने के लिए मंथन चल रहा है।

अखिलेश यादव ने किसान आंदोलन को लेकर मोदी सरकार को लिया आड़े हाथ

इसके साथ ही उन्होंने बातचीत के लिए शर्त भी रखी है कि किसान एक जगह रुककर बातचीत करें। वहां उन्होंने पुलिस सुरक्षा भी मिलेगी, साथ ही शौचालय जैसी सुविधाएं भी। शाह ने कहा, 'मैं प्रदर्शनकारी किसानों से गुजारिश करता हूं कि सरकार बातचीत करने के लिए तैयार है। कृषि मंत्री ने उन्हें 3 दिसंबर को बातचीत के लिए न्योता दिया है। सरकार किसानों की हर समस्या और मांग पर विचार करने के लिए तैयार है।

हरियाणा में प्रदर्शनकारी किसानों पर हत्या के प्रयास, दंगा करने के आरोप में केस दर्ज 

 

 

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.