Wednesday, Oct 05, 2022
-->
amitabh bachchan announces new kbc season quips about gps enabled note

अमिताभ बच्चन ने नए KBC सीजन का ऐलान किया, ‘GPS युक्त नोट’ को लेकर ली चुटकी

  • Updated on 6/12/2022


नई दिल्ली/टीम डिजिटल। महानायक अमिताभ बच्चन ने अपने लोकप्रिय गेम शो ‘कौन बनेगा करोड़पति’(केबीसी) की वापसी का ऐलान एक नये वीडियो के साथ किया जिसमें अभिनेता ने ‘जीपीएस युक्त दो हजार रुपये के नोट’ से संबंधित इंटरनेट पर प्रसारित अफवाहों और फर्जी दावों को लेकर चुटकी ली है। इसके साथ ही सोशल मीडिया पर भी चैनलों की लोगों ने भी खटिया खड़ी करनी शुरू कर दी।

राष्ट्रपति चुनाव: BJP ने नड्डा, राजनाथ को विचार-विमर्श के लिए किया अधिकृत

  •  

    दरअसल जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्ष 2016 में विमुद्रीकरण की घोषणा की, तो कई समाचार चैनलों ने दावा किया था कि नया 2,000 रुपये का नोट जीपीएस से युक्त होगा जो चौबीसों घंटे इसकी स्थिति को दर्शायेगा। सोनी टीवी द्वारा शनिवार को साझा किए गए 50 सेकंड के प्रोमो में इन झूठे दावों पर कटाक्ष किया गया।    

राष्ट्रपति चुनाव पर चर्चा के लिए शरद पवार से मिले AAP सांसद संजय सिंह 

  इस वीडियो में बच्चन को शो के होस्ट के रूप में अपनी भूमिका को दोहराते हुए गुड्डी नाम की एक प्रतियोगी से सवाल करते हुए दिखाया गया।  वीडियो में दिग्गज अभिनेता प्रतिभागी से पूछते दिखाई दे रहे हैं कि टाइपराइटर, टेलीविजन, उपग्रह और 2,000 रुपये के नोट में से किसमें जीपीएस तकनीक का इस्तेमाल किया गया है? प्रतियोगी आत्मविश्वास से 2,000 रुपये के नोट को अपने उत्तर के रूप में चुनती है।    

राष्ट्रपति चुनाव को लेकर ममता ने की पहल, कांग्रेस बोली- मतभेदों से ऊपर उठने का समय

  लेकिन इसके बाद बच्चन ने बताया कि सही उत्तर ‘उपग्रह’ था। इसके बाद स्तब्ध प्रतियोगी अभिनेता से पूछती है कि वह उसके साथ मजाक तो नहीं कर रहे। इसके जवाब में 79 वर्षीय अभिनेता ने कहा, ‘जिसे आप सच मानती थीं, वह मजाक था।’’ जब प्रतियोगी कहती है कि उसे समाचार पोर्टल से यह जानकारी मिली, तो यह उनकी गलत है। इसके जवाब में बच्चन ने कहा कि भले ही यह पत्रकारों की गलती थी, लेकिन नुकसान तो आपका हुआ।  प्रोमोशनल वीडियो में वह कहते हैं, ‘‘ ज्ञान जहां से मिले, बटोर लीजिए, लेकिन पहले जरा टटोल लीजिए।’’  

BJP से विधानसभा चुनाव में निपटने के लिए AAP ने किया गुजरात इकाई का पुनर्गठन

 

comments

.
.
.
.
.