Monday, Oct 03, 2022
-->
amnesty india president aakar patel again stopped from going to us rkdsnt

एमनेस्टी इंडिया के अध्यक्ष आकार पटेल को अमेरिका जाने से फिर रोका गया

  • Updated on 4/8/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। एमनेस्टी इंटरनेशनल इंडिया (एआईआई) के अध्यक्ष आकार पटेल को सीबीआई के ‘लुक-आउट सर्कुलर’ को लेकर आव्रजन अधिकारियों ने बेंगलुरु हवाई अड्डे पर अमेरिका रवाना होने से फिर से रोक दिया। पटेल ने कहा, ‘‘कल मैं डलास-टेक्सास जाने वाली उड़ान से रवाना होना चाहता था लेकिन मुझे जाने नहीं दिया गया। मैं बेंगलुरु से बाहर नहीं जा पा रहा हूं। मैं अदालत के आदेश का इंतजार कर रहा हूं।’’ 

RSS और मोदी विरोधी पार्टियों को साथ आना चाहिए, इस पर चर्चा जारी: राहुल गांधी

 

अदालत के आदेश का पालन नहीं करने के लिए सीबीआई के खिलाफ पटेल ने नई दिल्ली में राउज एवेन्यू जिला न्यायालय में विशेष सीबीआई अदालत का रुख किया था। दिल्ली की एक अदालत ने बृहस्पतिवार को केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) को विदेशी चंदा नियमन अधिनियम (एफसीआरए) के कथित उल्लंघन के एक मामले में पटेल के खिलाफ जारी ‘लुकआउट सर्कुलर’ (एलओसी) को वापस लेने और उनसे माफी मांगने का निर्देश दिया था। 

ममता बनर्जी का सुझाव- मूल्य वृद्धि पर नियंत्रण के लिए बनाई जानी चाहिए नीति

अदालत ने कहा था कि एजेंसी की ओर से सीबीआई निदेशक पटेल से 'लिखित में माफी' मांगकर अपने अधीनस्थ की चूक को स्वीकार करें। अदालत ने कहा था कि इससे प्रमुख संस्थान में जनता के विश्वास को बनाए रखने में मदद मिलेगी। अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट पवन कुमार ने यह आदेश पारित किया था और जांच एजेंसी को 30 अप्रैल तक अनुपालन रिपोर्ट दाखिल करने का निर्देश दिया था। 

जयराम रामेश ने संसद से पीयूष गोयल की गैरमौजूदगी को लेकर खड़े किए सवाल

पटेल ने ट्वीट किया, ‘‘आव्रजन अधिकारियों ने मुझे अमेरिका जाने से फिर से रोक दिया है। सीबीआई ने मेरे खिलाफ लुक आउट सर्कुलर वापस नहीं लिया है। बेंगलुरु हवाई अड्डे पर आव्रजन अधिकारियों का कहना है कि सीबीआई में कोई भी व्यक्ति उनकी कॉल का जवाब नहीं दे रहा है। मैं कल फिर अदालत का रुख करूंगा।’’ आव्रजन अधिकारियों ने बुधवार को भी पटेल को बेंगलुरु से बोस्टन जाने से यह कहते हुए रोक दिया था कि सीबीआई ने उनके खिलाफ ‘लुक-आउट’ नोटिस जारी किया है। उन्होंने कहा था कि वह इस महीने तीन विश्वविद्यालयों में व्याख्यान देने के लिए अमेरिका जाना चाहते हैं।      

भाजपा को टक्कर देने के लिए विपक्षी मोर्चा काफी नहीं होगा: सिसोदिया 

comments

.
.
.
.
.