Tuesday, Jun 22, 2021
-->
anganwadi workers opened front against chandramukhi women commission ncw rkdsnt

बदायूं कांड : महिला आयोग की सदस्य चंद्रमुखी के खिलाफ आंगनवाड़ी कर्मियों ने खोला मोर्चा

  • Updated on 1/8/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। ‘ऑल इंडिया फेडरेशन ऑफ आंगनवाड़ी वर्कर्स एंड हेल्पर्स’ ( AIFAWH) ने बदायूं के कथित सामूहिक बलात्कार के बाद हत्या मामले की पीड़िता के संदर्भ में राष्ट्रीय महिला आयोग की एक सदस्य की कथित टिप्पणी को लेकर उनको पद से हटाने की मांग की है।  खबरों के मुताबिक, बदायूं की घटना की पीड़िता के परिवार से मुलाकात करने के बाद चंद्रमुखी देवी ने कहा कि अगर शाम के समय महिला नहीं गई होती या परिवार का सदस्य कोई साथ में होता तो ऐसी घटना नहीं होती। 

IAS ऑफिसरों को संपत्ति का ब्योरा देने के लिए मोदी सरकार ने जारी किया आदेश

एआईएफएडब्ल्यूएच-सीटू के एक प्रतिनिधिमंडल ने शुक्रवार को पीड़िता के परिवार से मुलाकात की। पीड़िता आंगनवाड़ी सहायिका थी। संगठन ने एक बयान में कहा कि इस मामले की सुनवाई त्वरित अदालत में होनी चाहिए और परिवार को उचित मुआवजा तथा पीड़ित परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जाए। उसने यह भी कहा कि पीड़िता के खिलाफ ‘अपमानजनक टिप्पणी’ करने के लिए चंद्रमुखी देवी को महिला आयोग के सदस्य पद से हटाया जाए। एआईएफएडब्ल्यूएच-सीटू के प्रतिनिधिमंडल में एआईएफएडब्ल्यूएच की अध्यक्ष ऊषा रानी और कई अन्य लोग शामिल थे।

केरल के राज्यपाल ने की मोदी सरकार के कृषि कानूनों की आलोचना

प्रियंका गांधी भी बोलीं - इससे महिला सुरक्षा सुनिश्चित नहीं होगी
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने बदायूं के कथित सामूहिक बलात्कार के बाद हत्या मामले की पीड़िता के संदर्भ में राष्ट्रीय महिला आयोग की एक सदस्य की कथित टिप्पणी को लेकर शुक्रवार को कहा कि इस तरह के व्यवहार से महिला सुरक्षा सुनिश्चित नहीं हो सकती। 

राहुल गांधी बोले- किसानों को ‘तारीख पे तारीख’ देना सरकार की रणनीति

उन्होंने महिला आयोग की सदस्य चंद्रमुखी देवी की कथित टिप्पणी से जुड़ी खबर का हवाला देते हुए फेसबुक पोस्ट में कहा, ‘‘क्या इस व्यवहार से हम महिला सुरक्षा सुनिश्चित कर पाएंगे? महिला आयोग की सदस्य बलात्कार के लिए पीड़िता को दोषी ठहरा रही हैं। बदायूं प्रशासन को ये ङ्क्षचता है कि इस मामले का सच सामने लाने वाली पीड़िता की पोस्टमार्टम रिपोर्ट लीक कैसे हुई।’’ 

किसान आंदोलन के बीच पीएम मोदी से मिले CM योगी, शाह से खट्टर की मुलाकात

कांग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी ने कहा, ‘‘याद रखिए कि इस समय एक और भयावह बलात्कार के मामले में मुरादाबाद की पीड़िता मौत से जंग लड़ रही है। महिलाएं इस प्रशासनिक प्रणाली को व इस बदजुबानी को माफ नहीं करेंगी।’’खबरों के मुताबिक, बदायूं की घटना की पीड़िता के परिवार से मुलाकात करने के बाद चंद्रमुखी देवी ने कहा कि अगर शाम के समय महिला नहीं गई होती या परिवार का सदस्य कोई साथ में होता तो ऐसी घटना नहीं होती। 

 

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...


 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.