anna-hazare-attacks-bjp-narendra-modi-govt-on-amendment-in-rti-act

RTI कानून में संशोधन को लेकर मोदी सरकार पर जमकर बरसे अन्ना हजारे

  • Updated on 7/23/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। लोकसभा द्वारा सूचना के अधिकार कानून में संशोधन पारित करने के एक दिन बाद सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने मंगलवार को केंद्र सरकार पर इस कदम के जरिये भारतीय नागरिकों से धोखा करने का आरोप लगाया। 

कन्हैया पर मुकदमा चलाने के लिए दो महीने में लेनी होगी जरूरी मंजूरी : अदालत

सोमवार को लोकसभा ने आरटीआई कानून में संशोधन किया जिसके तहत इस विधेयक में उपबंध किया गया है कि मुख्य सूचना आयुक्त एवं सूचना आयुक्तों तथा राज्य मुख्य सूचना आयुक्त एवं राज्य सूचना आयुक्तों के वेतन, भत्ते और सेवा के अन्य निबंधन एवं शर्ते केंद्र सरकार द्वारा तय किए जाएंगे।

मालेगांव विस्फोट मामले में बॉम्बे हाई कोर्ट ने NIA से पूछा अहम सवाल

हजारे ने कहा, ‘‘भारत को आरटीआई कानून 2005 में मिला था लेकिन आरटीआई कानून में इस संशोधन से सरकार इस देश के लोगों के साथ धोखा कर रही है।’’ 82 वर्षीय हजारे ने कहा कि उनका स्वास्थ्य ठीक नहीं है लेकिन यदि देश के लोग आरटीआई कानून की शुचिता की रक्षा के लिए सड़कों पर उतरें तो वह उनका साथ देने के लिए तैयार हैं। 

टूर ट्रेवल पैकेज देने वाली Journeys By Jukaso से ग्राहक परेशान, टोल फ्री नंबर भी हुआ बंद

हजारे अहमदनगर जिला स्थित अपने गांव रालेगांव सिद्धि में बोल रहे थे। हजारे के आंदोलन के चलते महाराष्ट्र सरकार ने महाराष्ट्र सूचना का अधिकार कानून बनाया था जिसे सूचना के अधिकार कानून 2005 का आधार माना जाता है। 

वित्तीय धोखाधड़ी : प्योर ग्रोथ के मालिक आकाश जिंदल की कोर्ट पेशी, फरार है रस्तोगी परिवार

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.