Thursday, Jul 29, 2021
-->
annoyed with modis platform mamta showed her attitude refused to give speech albsnt

मोदी के मंच से नाराज ममता ने दिखाया तेवर, भाषण देने से किया मना

  • Updated on 1/23/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। देश भर में आज नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125 वीं जयंती मनाई जा रही है। इसी कड़ी में पीएम नरेंद्र मोदी पश्चिम बंगाल के दौरे पर पहुंचे हुए है। जहां उन्होंने विक्टोरिया मेमोरियल में आयोजित एक कार्यक्रम में शिकरत किये है। उनके साथ राज्यपाल जगदीश धनकड़ और सीएम ममता बनर्जी भी मौजूद थे। ममता उस वक्त नाराज हो गई जब कार्यक्रम स्थल पर जय श्री राम और भारत माता की जय के नारे लगाये गए।

'पराक्रम दिवस' पर PM मोदी- नेताजी फौलादी इरादों वाले व्यक्ति

बता दें कि जब मंच से राज्य की सीएम ममता बनर्जी को भाषण देने के लिये आमंत्रित किया गया तो उन्होंने कम शब्द बोलकर अपनी बात खत्म करके बैठ गई। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि किसी को आमंत्रित करके अपमानित करना सही नहीं है। ममता ने कहा कि वे पीएम नरेंद्र मोदी, पर्यटन मंत्रालय का आभारी है कि उन्हें निमंत्रण दिया गया। उन्होंने कहा कि यह कार्यक्रम सरकारी है। जिसकी गरिमा कायम रखना हम सबकी जिम्मेदारी है। ममता ने कहा कि ऐसे कार्यक्रम में प्रोटोकॉल का पालन करना सुनिश्चित किया जाना चाहिये।  वहीं पीएम नरेंद्र मोदी ने कोलकाता में कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस का नाम सुनते ही वे हमेशा से उत्साहित होते रहे है। उन्होंने कहा कि नेताजी में अभूतपूर्व साहस का जीवन भर परिचय दिया,जो प्रेरणादायक है।

DDA को MCD का देना है 2 हजार करोड़, फिर भी केजरीवाल सरकार से पैसे मांग रही BJP- AAP

मालूम हो कि पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में नेताजी के सपनों के भारत का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि आज आत्मनिर्भर भारत नेताजी को समर्पित है। उन्होंने कहा कि नेताजी ने आजाद भारत की परिकल्पना की और उसे साकार करने के लिये पूरी ताकत से जुट गए। उन्होंने सभी से नेताजी के जीवन से प्रेरणा लेने का आग्रह किया।

पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

 

 

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.