Sunday, Jun 26, 2022
-->
another-new-strain-of-corona-surfaced-in-britain-ban-on-flights-to-south-africa-prshnt

ब्रिटेन में सामने आया कोरोना का एक और नया स्ट्रेन, मचा हड़कंप, दक्षिण अफ्रीका की उड़ानों पर लगाई रोक

  • Updated on 12/24/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दुनिया में कहर बरपा रहे कोरोना वायरस (Coronavirus) का दायरा दिन पर दिन बढ़ता जा रहा है। हालांकि अमेरिका में कोरोना  वैक्सीन का टीकाकरण शुरू हो गया है। वहीं ब्रिटेन (Britain) में कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन मिलने से पूरी दुनिया खौफ फैल गया है। इसी बीच ब्रिटेन के स्वास्थ्य सचिव मैट हैनकॉक ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका से यात्रा कर आए कुछ लोगों के संपर्क में आने वालों में कोरोना वायरस के एक और नए वेरिएंट का पता चला है। जिसके बाद पिछले दो हफ्ते में दक्षिण अफ्रीका से आने वाले सभी लोगों को खुद को आइसोलेट करने की सलाह दी गई है। अभी तक इस नए स्ट्रेन के 2 मामले सामने आए हैं

गौरतलब है कि ब्रिटेन में कोरोना के बेहद तेजी से फैलने वाले नए स्ट्रेन के बाद, अब वहां वायरस का एक और नया स्ट्रेन सामने आया है, जो कि बहुत संक्रामक है। कोरोना के इस नये वेरिएंट ने ब्रिटेन में जैसे नुकसान पहुंचाया है, वैसे ही दक्षिण अफ्रीका में भी बीमारी को तेजी से फैला रहा है। 

जम्मू कश्मीर के बारामूला में आतंकियों से मुठभेड़, सर्च ऑपरेशन जारी

70 फीसदी अधिक तेजी से फैलता है नया स्ट्रेन
एक्सपर्ट का कहना है कि कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन, पहले के वायरस के मुकाबले 70 फीसदी अधिक तेजी से फैलता है। वहीं, दक्षिण अफ्रीका के स्वास्थ्य विभाग ने पिछले हफ्ते ही कहा था कि वायरस का एक नया जेनेटिक म्यूटेशन पाया गया है और हो सकता है कि हाल ही में संक्रमण में वृद्धि के लिए यही जिम्मेदार हो।

बता दें कि ब्रिटेन ने ऐलान किया है कि उसे कोविड-19 का नया वेरिएंट मिला है और ये नया स्ट्रेन भी बेहद संक्रामक है। दक्षिण अफ्रीकियों की प्रभावशाली जीनोमिक क्षमता की बदौलत, ब्रिटेन में कोरोना वायरस के एक और नए वेरिएंट के दो मामलों का पता चला है। 

Weather Update: शीतलहर की चपेट में उत्तर भारत के अधिकतर हिस्से, दिल्ली में छाया घना कोहरा

कई देशों से उड़ाने हुई रद्द
कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए क्रिसमस और न्यू ईयर से पहले ब्रिटेन में पाबंदियां लगाई गईं हैं और प्रकार के सामने आने के बाद कई देशों ने यहा हवाई सुविधा को बंद कर दिया है। अब तक लगभग दुनिया के 40 देशों ने ब्रिटेन में हवाई प्रतिबंध लगा दिया है। फ्रांस से हवाई यत्रा पर प्रतिबंध का असर सबसे अधिक हुआ है। दरअसल फ्रांस जाने के लिए 1500 से अधिक ट्रक इंग्लैंड की सीमा में खड़े हैं। बताया जा रहा है कि अगर प्रतिबंधों में ढील नहीं दी गई तो ब्रिटेन को खाद्य पदार्थों की कमी का सामना करना पड़ सकता है।

एक तरिका हो सकता है कि फ्रांस जाने के लिए तैयार खड़े ट्रक के ड्राइवरों का कोरोना परीक्षण कराकर उन्हें वहां भेजा जाए। लेकिन इस परीक्षण का परिणाम आने में 24 से 48 घंटे लगते हैं।

टैक्स मामले में केयर्न एनर्जी की जीत, भारत को 1.4 अरब डॉलर लौटाने का आदेश

फ्रांस ने 48 घंटे के लिए उड़ाने की रद्द
वहीं प्रतिबंधों में ढील के लिए सोमवार को ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन ने फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैंक्रो से बात की। इसके अलावा स्‍कॉटलैंड ने भी ब्रिटेन के लिए अपनी सीमा बंद करते हुए यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया है। वहीं फ्रांस ने पिछले 48 घंटे से ब्रिटेन से सभी प्रकार की सड़क, रेल, समुद्र और वायु सेवा पर रोक लगा दी है। वहीं स्पेन और पुर्तगाल ने उड़ानों पर रोक लगा दी है। मैड्रिड केवल अपने नागरिकों या निवासियों को ब्रिटेन से प्रवेश करने की अनुमति दे रहा है।

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.