Wednesday, Jan 22, 2020
anupriya patel demands reserved class students get jobs in general quota when numbers are normal

अनुप्रिया ने की मांग-आरक्षित वर्ग वाले छात्रों को नंबर सामान्य आने पर general में मिले नौकरी

  • Updated on 12/15/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। आरक्षित वर्ग का उम्मीदवार यदि सामान्य वर्ग के समान या उससे अधिक अंक पाता है तो उस उम्मीदवार को अनारक्षित कोटे में नौकरी दी जानी चाहिए। यह मांग पूर्व केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल (Anupriya Patel) ने कही है। उन्होंने कहा है कि यदि आरक्षित वर्ग का उम्मीदवार सामान्य वर्ग के समान या उससे अधिक नंबर पाता है तो ऐसे उम्मीदवार को अनारक्षित कोटे में नौकरी दिया जाना चाहिये। 

कांग्रेस ने यूपी में किया 'अपना दल' से गठबंधन, कृष्णा पटेल खुश

अनुप्रिया ने पेश किया उत्तर प्रदेश, राजस्थान, दिल्ली का उदाहरण

उन्होंने दावा किया कि उत्तर प्रदेश, राजस्थान, दिल्ली, झारखंड, मध्य प्रदेश समेत कई राज्यों से लगातार खबरें आ रही हैं कि आरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों का कट ऑफ सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों से ज्यादा है। अनुप्रिया ने कहा कि हाल ही में उत्तर प्रदेश के होम्योपैथी चिकित्सा अधिकारियों की नियुक्ति में सामान्य वर्ग का कटऑफ 86 तो ओबीसी वर्ग का 99 फीसदी रहा।

#BJP ने 'अपना दल' को किया संतुष्ट, अनुप्रिया पटेल फिर आजमाएंगी किस्मत

अनुप्रिया लोकसभा में भी उठा चुकी है यह मुद्दा

इसी प्रकार राजस्थान एडमिनिस्ट्रेटिव र्सिवस (आरएएस) परीक्षा, 2013 में ओबीसी वर्ग का कट ऑफ 381 और जनरल वर्ग का कट ऑफ 350 रहा।  उन्होंने कहा जबकि प्रावधान यह है कि आरक्षित वर्ग का उम्मीदवार अगर सामान्य वर्ग के उम्मीदवार से ज्यादा नम्बर पाता है, तो उसे अनारक्षित यानी जनरल सीट पर नौकरी दी जाएगी, न कि आरक्षित सीट पर। मगर ऐसा होता नहीं है।अनुप्रिया यह मुद्दा लोकसभा में भी उठा चुकी हैं ।  

उत्तर प्रदेश : राजभर के बाद अब अपना दल ने साधा योगी सरकार पर निशाना

देश भर में ओबीसी की आबादी 52 फीसदी

उन्होंने स्पष्ट किया कि उच्चतम न्यायालय के फैसले में कहा गया है कि आरक्षित वर्ग का उम्मीदवार उसी स्थिति में ज्यादा नंबर पाने पर अनारक्षित सीट पर नौकरी पा सकता है जब उसने किसी प्रकार की कोई छूट मतलब उम्र सीमा, आवेदन के दौरान सामान्य वर्ग की तुलना में कम फीस आदि नहीं ली हो। अनुप्रिया ने कहा किओबीसी की आबादी देश की आबादी का 52 फीसदी है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.