Tuesday, Dec 07, 2021
-->

बर्थडे स्पेशल: मुंबई की सड़कों पर रात गुजारने से लेकर, कांस फिल्म फेस्टिवल तक अनुराग का सफर

  • Updated on 9/10/2017

Navodayatimesनई दिल्ली/टीम डिजिटल। बॉलीवुड के मशहूर फिल्म निर्देशक, निर्माता, स्क्रीन राइटर और एक्टर अनुराग सिंह कश्यप का आज  45वां बर्थडे जन्मदिन है। अनुराग एक ऐसे निर्देशक हैं जिनका फिल्म बनाने का अपना तरीका है और अपना अलग अंदाज है। वो आज भी दर्शकों के बीच अपनी फिल्म  के लिए चर्चा में रहते हैं। 

उनका जन्म 10 सितंबर 1972 को उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में हुआ था। अनुराग का बचपन कई शहरों में गुजरा। अनुराग ने अपनी पढ़ाई देहरादून और ग्वालियर में की और उनकी कुछ फिल्मों में इन शहरों की छाप भी नजर आती है, विशेष रूप से 'गैंग्स ऑफ वासेपुर' में, जहां उन्होंने उस घर का प्रयोग किया जहां वह पले और बड़े।

फिल्में देखने का शौक उन्हें बचपन से ही था, लेकिन बाद में उनका यह शौक छूट गाया। कॉलेज लाइफ में फिर से अनुराग ने फिल्में देखनी शुरू कीं। यहां वह एक थिएटर ग्रुप से जुड़े और जब वह एक 'अंतरराष्ट्रीय फिल्म फेस्ट' में उपस्थित हुए, तो उनमें फिल्में बनाने की चेतना जगी और यहीं से उनकी करियर की शुरुआत हुई। फिल्में बनाने की लालसा अनुराग को 1993 में मुंबई ले आई। अनुराग जब मुंबई आए थे, तब उनके जेब में 5 से 6 हजार रुपये पड़े थे। मुंबई शहर में पहले 8-9 महीने वह काफी परेशान रहे। 

अनुराग ने गैंग्स ऑफ वासेपुर बनाई और कई इस फिल्म के डॉयलाग से मीम बनाकर हो गए लखपति

इस दौरान उन्हें सड़कों पर भी सोना पड़ा और काम की खोज में भटकना भी पड़ा। तब कहीं जाकर उनको पृथ्वी थिएटर में काम मिला। इसके वाबजूद उनका पहला प्ले आज तक पूरा नहीं हो सका, क्योंकि उस दौरान डायरेक्टर का निधन हो गया था। खैर यह तब की बात थी, अनुराग आज के दौर में एक जानेमाने फिल्म निर्देशक हैं।

साल 1997 में अनुराग ने हंसल मेहता की 'जयते' फिल्म लिखी लेकिन वो भी रिलीज नहीं हो पाई, फिर सीरियल 'कभी कभी' के कई एपिसोड्स अनुराग ने लिखे थे। साल 1998 में अनुराग का नाम मनोज बाजपाई ने रामगोपाल वर्मा को सुझाया और अनुराग को 'सत्या' फिल्म लिखने का मौका मिला। फिल्म सफल भी हुई। उसके बाद अनुराग ने 'शूल' और 'कौन' के डायलॉग्स भी लिखे। अनुराग ने डायरेक्टर के तौर पर फिल्म 'पांच' बनाई जो आज तक रिलीज नहीं हो पाई

अमित शाह का राहुल पर निशाना - आपके नाना की योजना, आपके पापा भी पूरी नहीं कर पाए

उसके बाद 'ब्लैक फ्राइडे', 'नो स्मोकिंग', 'देव डी', 'गुलाल', 'गैंग्स ऑफ वासेपुर', 'अग्ली' और इसी साल रिलीज हुई फिल्म 'बॉम्बे वेलवेट' फिल्म को अनुराग ने डायरेक्ट किया।  गैंग्स ऑफ वासेपुर  के लिए सन 2012 में कान फिल्म समारोह में प्रीमियर में उन्हें आमंत्रित भी किया गया। और इसी फिल्म के लिए  उन्हें  एशिया प्रशांत स्क्रीन पुरस्कार,सर्वश्रेष्ठ फिल्म के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार के लिए नामित भी किया गया।

कलरफुल रही है अनुराग की जिंदगी

अनुराग कश्यप ने पहली शादी एडिटर आरती बजाज से की थी उसके बाद 2009 में उनका तलाक हो गया। फिर एक्ट्रेस कल्की कोचलीन से अनुराग की शादी हुई और उनके साथ भी 2015 में तलाक हो गया। अनुराग की पहली पत्नी से एक बेटी है जिसका नाम आलिया कश्यप है। उनकी फिल्में भले ही डार्क हों, लेकिन लव लाइफ काफी कलरफुल है। दो बार शादी के बंधन में बंध चुके फिल्म निर्देशक अनुराग कश्यप आजकल अपनी नई गर्लफ्रेंड 23 साल की शुभ्रा शेट्टी के साथ रोमांस फरमा रहे हैं। 23 साल की शुभ्रा, 44 वर्षीय निर्देशक के साथ उम्र में इतने अधिक अंतर की वजह से भी लोगों का ध्यान आकर्षित कर रही हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.