Thursday, Oct 29, 2020

Live Updates: Unlock 5- Day 28

Last Updated: Wed Oct 28 2020 03:36 PM

corona virus

Total Cases

7,990,643

Recovered

7,257,444

Deaths

120,067

  • INDIA7,990,643
  • MAHARASTRA1,654,028
  • ANDHRA PRADESH1,648,665
  • KARNATAKA809,638
  • TAMIL NADU714,235
  • UTTAR PRADESH474,054
  • KERALA402,675
  • NEW DELHI364,341
  • WEST BENGAL357,779
  • ARUNACHAL PRADESH325,396
  • ODISHA285,482
  • TELANGANA232,671
  • BIHAR213,383
  • ASSAM204,789
  • RAJASTHAN189,844
  • CHHATTISGARH179,654
  • GUJARAT169,073
  • MADHYA PRADESH168,483
  • HARYANA160,705
  • PUNJAB131,737
  • JHARKHAND100,224
  • JAMMU & KASHMIR92,677
  • CHANDIGARH70,777
  • UTTARAKHAND60,957
  • GOA42,747
  • PUDUCHERRY34,482
  • TRIPURA30,290
  • HIMACHAL PRADESH20,817
  • MANIPUR17,604
  • MEGHALAYA8,677
  • NAGALAND8,296
  • LADAKH5,840
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS4,274
  • SIKKIM3,863
  • DADRA AND NAGAR HAVELI3,227
  • MIZORAM2,359
  • DAMAN AND DIU1,381
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
apple company gave hints ready to invest in india by removing from china albsnt

Apple कंपनी ने दिये संकेत- चीन से हटाकर भारत में इनवेस्ट करने के लिये हैं तैयार

  • Updated on 5/11/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारत के लिये कोरोना वायरस (Corona Virus) आर्थिक क्षेत्र में एक वरदान साबित हो सकता है। इसके लिये बस देश को कुछ जरुरी सुविधा दुनिया भर के कंपनियों को देना होगा। जिसके बाद भारत इस वैश्विक महामारी के बाद 5 ट्रिलियन इकॉनोमी को हासिल कर सकता है। इस बाबत भारत के लिये खुशखबरी है कि दुनिया की सबसे बड़ी स्मार्ट फोन में शुमार एपल चीन से जल्द ही भारत में अपना प्रोडक्शन युनिट को शुरु कर सकता है।

लॉकडाउन के दौरान असम में 30 परिवारों को गांव खाली करने के निर्देश मिले

मालूम हो कि एपल ने इसके लिये अगले 5 साल के लिये एक खाका तैयार किया है,जिसके तहत 40 बिलियन डॉलर की लागत से मोबाइल उत्पादन का लक्ष्य तय किया है।  माना जा रहा है कि एपल कंपनी प्रोडक्शन का पांचवा हिस्सा चीन से हटाकर भारत में शुरु करने की तैयारी में जुट गया है। बता दें कि एपल स्मार्टफोन के उत्पादन में दुनिया भर में एक जाना पहचाना कंपनी है। हालांकि भारत में पिलहाल यह उत्पादन पीएलआई स्कीम (प्रोडक्शन लिंक्ड इनसेंटिव स्कीम) के तहत किया जाएगा। जिसमें अनुबंध के माध्यम से आगे बढ़ने की योजना है। 

अच्छी खबरः श्रमिक स्पेशल ट्रेन में जा सकेंगे 1700 यात्री, होंगे 3 स्टॉपेज

हाल के महीनों में जिस तरह से चीन से दुनिया के सभी देशों में नाराजगी देखी गई है,ऐसे में भारत के लिये यह किसी अवसर से कम नहीं है। माना जा रहा है कि भारत में उत्पादन करने से इन कंपनियों को आयात शुल्क बचेंगे। साथ ही भारत में कम कीमत पर स्किल्ड लेवर मौजूद है,जिसका लाभ इन कंपनियों को उठाना चाहिये। भारत में मोबाइल उत्पादन की अपार क्षमता है। जिसमें असेंबली से लेकर टेस्टिंग, मेकिंग और पैकेजिंग यूनिट तक आराम से लगाई जा सकती है।

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.