Tuesday, Aug 03, 2021
-->
approx 400 terrorists are trying to enter india sohsnt

भारत में घुसपैठ की फिराक में LoC पार करीब 400 आतंकी, सेना अलर्ट

  • Updated on 1/7/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। भारत (India) का पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान (Pakistan) अपनी नापाक हरकतों को अंजाम देने से बाज नहीं आ रहा। ऐसे में अब सुरक्षा अधिकारियों को खूफिया सूत्रों से जानकारी मिली है कि नियंत्रण रेखा (LOC) के पार करीब 400 आतंकवादी 'लांच पैड' पर हैं। आतंकी सर्दियों के मौसम में घने कोहरे का फायदा उठाकर घुसपैठ की फिराक में हैं। हालाकिं, सुरक्षा अधिकारियों का कहना है कि घुसपैठ रोधी ग्रिड आतंकियों के मंसूबों को विफल करने कि दिशा में लगातार काम कर रहा है।

पाकिस्तान में SC ने दिया आदेश, कहा- ढहाए गए मंदिर का दो सप्ताह में हो फिर निर्माण

सीमा में घुसपैठ के हर साल इतने मामले
बता दें कि ये पहला मामला नहीं है जब ऐसी जानकारी मिली है। इससे पहले साल 2020 में 44 और साल 2019 में 141 और साल 2018 में 143 आतंकवादियों के घुसपैठ की खबर सामने आई थी। दरअसल, भारत-चीन सीमा गतिरोध के बाद से सेना ने भारत-पाकिस्तान सीमा पर सुरक्षा कड़ी कर दी है जिसके चलते अब आतंकी हर संभव कोशिश के बाद भी सीमा पार करने में विफल साबित हो रहे हैं। 

US: कैपिटल बिल्डिंग में हिंसक झड़प में दिखा भारत का झंडा, वरुण गांधी ने उठाए सवाल

लांच पैड पर करीब 300 से 400 आतंकियों के होने की खबर
दरअसल, सीमा पर आतंकवादियों द्वारा घुसपैठ की इस खबर की पुष्टि करते हुए एक अधिकारी ने बताया कि पीओके में एलओसी से सटे इलाकों में विभिन्न लांच पैड पर करीब 300 से 400 आतंकवादियों के होने की जानकारी मिली है। उन्होंने बताया कि ये आतंकी जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। इस संबंध में अधिक जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि पीर-पंजाल के उत्तर की ओर एलओसी के पास 175-210 आतंकवादी सक्रिय हैं और इसके दक्षिण में एलओसी के सटे इलाकों में करीब 175-210 आतंरकी सीमा में प्रवेश करने के लिए तैयार हैं। 

Pak में हजारा शिया समुदाय का ‘नरसंहार’ करा रही सेना! 11 हत्याओं के बाद PM Modi से लगाई गुहार

इस तकनीक का इस्तेमाल कर रहे हैं आतंकी
वहीं दूसरी ओर ऐसी भी जानकारी है कि सीमा पर चौकसी बढ़ाने से पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी और आतंकवादी समूह अब साइबर और मोबाईल स्पेस का इस्तेमाल कर आतंकवाद को बढ़ावा देने की कोशिश में जुटे है और जम्मू-कश्मीर में आतंकियों की भर्ती कर रहे हैं। दरअसल, सीमा पर बढ़ी सुरक्षा के चलते आतंकी संगठन आपस में आमने-सामने संपर्क नहीं कर पा रहे हैं। 

PAK: हिंदू मंदिर में तोड़फोड़ करने पर हुई बड़ी कार्रवाई, 8 पुलिसकर्मी सस्पेंड

 साल 2020 में 49 आतंकवादियों को किया गया गिरफ्तार 
दरअसल, अधिकारियों ने बताया कि खुफिया सूचनाओं और तकनीकी निगरानी से पता चला है कि नये लोगों को आतंकी संगठन में शामिल करने के लिए उनकी भावनाओं को भड़काने के लिए झुठे वीडियों का इस्तेमाल कर रहे हैं, वे पाकिस्तान के आईएसआई हैंडलर सुरक्षा बलों द्वारा किए गए अत्याचारों के फर्जी वीडियो के लोगों तक पहुंचा रहे हैं। बता दें कि साल 2020 में 49 आतंकवादियों को गिरफ्तार किया और नौ आतंकवादियों ने आत्मसमर्पण भी किया। 

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.