Thursday, Apr 02, 2020
army chief gen bipin rawat on ''''''''chinese troop movements in demchok

चीन की घुसपैठ को लेकर आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत का बड़ा बयान, कही ये बात

  • Updated on 7/13/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। डोकलाम (Doklam plateau) गतिरोध के 2 साल बाद चीन (Chinese Army) की सेना ने एक बार फिर से भारतीय (Indian) क्षेत्र में घुसपैठ की खबरों के बीच आर्मी चीफ ने इसका खंडन किया है। रावत ने एक समारोह के इतर कहा, ‘कोई घुसपैठ नहीं हुई है।’

जनरल रावत का यह बयान इन रिपोर्टों के बीच आया है कि चीनी जवानों ने छह जुलाई को दलाई लामा के जन्मदिवस के मौके पर कुछ तिब्बतियों द्वारा तिब्बती झंडे फहराए जाने के बाद पिछले सप्ताह वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पार की।

सैन्य प्रमुख ने कहा, ‘चीनी अपनी मानी जाने वाली वास्तविक नियंत्रण रेखा पर आते हैं और गश्त करते हैं... हम उन्हें रोकते हैं। कई बार स्थानीय स्तर पर जश्न समारोह होते हैं। डेमचोक सेक्टर में हमारी ओर तिब्बती जश्न मना रहे थे। इसके आधार पर, कुछ चीनी यह देखने आए कि क्या हो रहा है, लेकिन कोई घुसपैठ नहीं हुई। सब सामान्य है।’

आरोप है कि चीन की पीपल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) ने कुछ दिन पहले जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के लद्दाख (Ladakh) में पूर्वी डेमचोक इलाके में 6 किलोमीटर अंदर तक घुसपैठ की और अपना झंडा फहराया। चीन की सेना ने ऐसे समय पर घुसपैठ की है, जब स्थानीय निवासी तिब्बती धर्मगुरु दलाई लामा का जन्मदिन मना रहे हैं।

 

तबरेज अंसारी लिंचिंग मामले में जांच टीम के निशाने पर पुलिस और डॉक्टर

सरपंच ने चीन की सेना के घुसपैठ की पुष्टि की
जानकारी के मुताबिक डेमचोक की सरपंच ने चीन की सेना के घुसपैठ की पुष्टि की है। ये सैनिक सैन्य वाहनों में भर कर भारतीय सीमा में आए और चीन का झंडा फहराया। डेमचोक की सरपंच उरगेन चोदोन ने बताया कि चीन के सैनिक भारतीय सीमा में आए। उन्होंने बताया कि चीनी सैनिकों के डेमचोक में आने का मकसद कुछ और नजर आ रहा है।

सुप्रीम कोर्ट ने अवकाशपीठ से आदेश प्राप्त करने पर जताई नाखुशी 

घुसपैठ की गतिविधि को अंजाम दे भारत पर दबाव बढ़ाना चाहता है चीन 
सरपंच ने बताया कि चीन के सैनिक ऐसे समय पर इस इलाके में आए हैं जब स्थानीय लोग दलाई लामा का जन्मदिन मना रहे हैं। उरगेन ने बताया कि चीन के सैनिकों का डेमचोक में आना ङ्क्षचता की बात है। उन्होंने कहा कि चीन इस तरह की गतिविधि को अंजाम देकर भारत पर दबाव बढ़ाना चाहता है, ताकि अगर कभी बातचीत हो तो उस समय इस क्षेत्र पर अपना दावा किया जा सके। चीन यह कह सकता है कि वहां चीन का झंडा है और उसका टैंट है, ऐसे में यह इलाका उसका है।

सोनाक्षी ने धोखाधड़ी केस को लेकर दी सफाई, इवेंट मैनेजर निशाने पर

सेना का दावा   भारतीय सीमा में नहीं घुसे चीनी सैनिक
भारतीय सीमा में एक बार फिर चीनी सेना की घुसपैठ की खबरों का भारतीय सेना ने खंडन किया है। सेना ने कहा कि लद्दाख के दामचोक इलाके में 6 जुलाई को चीन के लोगों ने लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एल.ए.सी.) पार नहीं की थी। सेना ने कहा कि चीनी नागरिक अपनी सीमा में ही थे और वहीं से ही वे बैनर दिखा रहे थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.