Friday, Jul 01, 2022
-->
art-is-informative-and-inspirational-for-children-satish-upadhyay

कला बच्चों के लिए ज्ञानवर्धक व प्रेरणादायक है : सतीश उपाध्याय

  • Updated on 4/27/2022

नई दिल्ली। टीम डिजिटल। कला बच्चों के लिए ज्ञानवर्धक व प्रेरणादायक है। कला बच्चों की इंद्रियों को खुले खेल में संलग्न करती है और संज्ञानात्मक, सामाजिक-भावनात्मक और बहु-संवेदी कौशल के विकास में भी मदद करती है। उक्त बातें नई दिल्ली नगर पालिका परिषद (एनडीएमसी) के उपाध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने मोती बाग स्थित अटल आदर्श प्राथमिक विद्यालय में दीवारों पर बनाई गई वॉल पेंटिंग का उद्घाटन करने व बच्चों को सूखा राशन वितरित करने के दौरान कहीं। इस मौके पर उनके साथ एनडीएमसी के निदेशक शिक्षा आर.पी. सत्ती, स्कूल की प्रधानाचार्य, शिक्षक व वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित रहे।
इग्नू के प्रोफेसरों को हनुमान जी की तरह नहीं है अपनी शक्तियों का आभास : प्रधान

मध्याह्न भोजन से दिखे उपाध्याय असंतुष्ट
उपध्याय ने बच्चों और उनके अभिभावकों को सूखा राशन वितरण के पश्चात छात्रों को परोसे जाने वाले मध्याह्न भोजन का भी निरीक्षण किया। उन्होने छात्रों के साथ बातचीत के दौरान मध्याह्न भोजन के प्रति जानकारी ली। उन्होंनें पाया की अधिकांश छात्र भोजन से संतुष्ट नहीं हैं क्योंकि उन्हें रोजाना एक जैसा खाना मिल रहा है। ज्यादातर बच्चों ने कहा कि उन्हें चार दिन से लगातार दलिया मिल रहा है जो उन्हें पसंद नहीं है। उन्होंने पाया कि 99 फीसदी बच्चे स्कूल में मिलने वाले मध्याह्न भोजन से खुश नहीं हैं। उपाध्याय ने मध्याह्न भोजन संबंधित विभाग को परिवर्तन करने के निर्देश दिए क्योंकि भोजन बच्चों के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।
एनआईओएस मुस्लिम मदरसों को स्टडी सेंटर भी बनाता है : शोएब रजा

सिविल व विद्युत विभाग से उपाध्याय दिखे असंतुष्ट
इस दौरान उपाध्याय सिविल एवं विद्युत अभियांत्रिकी विभाग के कार्यों से संतुष्ट नहीं दिखे। उन्होंने कहा कि बजट में स्कूल विकास के लिए एक अलग इंजीनियरिंग विंग बनाने का प्रावधान है, लेकिन एनडीएमसी द्वारा आज तक कुछ भी निष्पादित नहीं किया गया है। इस दौरान उन्होंने शिक्षा विभाग को एनडीएमसी द्वारा संचालित सभी स्कूलों का सालाना ऑडिट कराने के सख्त निर्देश दिए। उन्होंनें कहा कि स्कूलों में कार्यक्रम के आयोजन के लिए हॉल का प्रावधान, खेलने के झूले, साफ-सुथरे शौचालय, सुरक्षा दृष्टि से सीसीटीवी कैमरे आदि की व्यवस्था होनी ही चाहिए जो बच्चों की बुनियादी जरूरत है, हम बच्चों के भविष्य से नहीं खेल सकते।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.