Wednesday, Jan 29, 2020
article 370 mehbooba and omar fight in hari niwas

Article 370: हिरासत में झगड़ पड़े महबूबा-उमर, दोनों को अलग किया गया

  • Updated on 8/12/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। केंद्र की मोदी सरकार (Modi Government) द्वारा जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) से आर्टिकल 370 (Article 370) समाप्त किए जाने का असर सबसे ज्यादा वहां की राजनीति में दिखाई दे रहा है। राज्य में कई जगहों पर अभी भी अनुच्छेद 370 लागू है। वहीं राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला (Omar Abdullah) पिछले एक हफ्ते से हरि निवास में कैद है। जम्मू-कश्मीर में एक-दूसरे की धुर विरोधी पार्टी महबूबा और उमर मोदी सरकार के फैसले को लेकर हिरासत में ही झगड़ पड़े। अधिकारियों ने बताया कि दोनों का झगड़ा इतना बढ़ गया कि उन्हें अलग करना पड़ा।

हिरासत में झगड़ पड़े महबूबा- उमर

हरि आवास में कैद महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला ने राज्य में भाजपा (BJP) को लाने के लिए एक दूसरे को कसूरवार ठहराना शुरू कर दिया। दोनों की मोदी को लेकर तू-तू मैं-मैं इतनी बढ़ गई कि दोनों एक दूसरे पर बुरी तरह चिल्लाने लगे।

जम्मू-कश्मीर के लोगों के लिए सोच-समझकर लिया 370 हटाने का फैसला- मोदी

मुफ्ती पर चिल्लाए उमर

एक दिन जब उमर आवास में टहल रहे थे तो महबूबा और उनके बीच आर्टिकल 370 को लेकर बहस शुरू हो गई। दोनों ने मौजूदा हालातों को लेकर एक दूसरे पर आरोप मढ़ना शुरू कर दिया। इस बीच उमर ने महबूबा और उनके दिवंगत पिता मुफ्ती मोहम्मद सईद पर भाजपा से 2015 और 2018 में राज्य में गठबंधन करने का तंज कस दिया। जिसके बाद दोनों में जमकर कहासुनी हो गई। इस दौरान महबूबा ने भी उमर पर जमकर हमला बोला। दोनों की एक दूसरे पर चिल्लाने की आवाज वहां पर मौजूद स्टाफ ने भी सुनी।

देश भर में अदा की गई नमाज, पीएम मोदी सहित इन नेताओं ने कहा ईद मुबारक

महबूबा का उमर पर पलटवार

उमर के आरोप लगाने के बाद महबूबा ने भी जमकर पलटवार किया। उन्होंने उमर को ऊंची आवाज में कहा कि आपके पिता फारूक अब्दुल्ला का गठबंधन तो अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में एनडीए से था। और आप तो उस सरकार में विदेश ममालों के जूनियर मिनिस्टर थे। महबूबा ने 1947 में जम्मू-कश्मीर के भारत में विलय के लिए उमर के दादा शेख अब्दुल्ला को भी जिम्मेदार ठहरा दिया।

मुस्लिम बहुल होने के कारण हटा अनुच्छेद 370 : पी चिदंबरम

अलग शिफ्ट करना पड़ा

सूत्रों के मुताबिक, दोनों ने एक दूसरे के पिता-दादा पर आरोप लगाना शुरू कर दिया और एक दूसरे को जमकर खरी खोटी सुनानी शुरू कर दी। दोनों का झगड़ा इतना ज्यादा बढ़ गया कि दोनों को अलग-अलग शिफ्ट करना पड़ा। महबूबा को हरि निवास में ही और उमर को महादेव पहाड़ी के पास चेश्माशाही में वन विभाग के भवन में शिफ्ट किया गया।

एक अधिकारी ने बताया कि दोनों नेताओं को जेल के नियमों के मुताबिक ही खाना दिया जा रहा है। लेकिन महबूबा भूख हड़ताल पर हैं और सिर्फ फल खा रही हैं इसलिए उनके लिए हर रोज कश्मीरी सेब और नाशपती पहुंचाए जा रहे हैं। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.