Friday, Jan 18, 2019

केजरीवाल ने शीला दीक्षित को नहीं दी तवज्जो, BJP के सातों सांसद हैं निशाने पर

  • Updated on 1/12/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। आम आदमी पार्टी ने लोकसभा चुनाव के मद्देनजर अपनी तैयारी तेज कर दी है। AAP के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने अपने घर पर 10 जनवरी से 16 जनवरी तक रोजाना एक लोकसभा के विधायकों, संगठन के सभी पदाधिकारियों की बैठक का आयोजन रखा है। इस श्रंखला में 11 जनवरी 2019 की शाम को पूर्वी दिल्ली लोकसभा की मीटिंग का आयोजन किया गया। 

सपा-बसपा गठबंधन पर बोली भाकपा- चुनाव के बाद बनेगा महागठबंधन

मीटिंग में आए कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि आप सबके संघर्ष से दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार भी बनी। लेकिन केंद्र में जो भ्रष्ट सरकारें बैठी हैं, वो नहीं चाहती कि देश से भ्रष्टाचार समाप्त हो।  जब से हमारी सरकार बनी है तब से केंद्र में बैठी भाजपा सरकार ने हमारे हर उस काम में जो हम जनता के लिए करना चाहते हैं, अडंगा लगाया। 

प्रधानमंत्री मोदी ने तय किया लोकसभा चुनाव 2019 का एजेंडा, निशाने पर कांग्रेस

हमारे विधायकों को झूठे केसों में जेल भिजवाया, हमारे मंत्रियों के दफ्तरों पर घरों पर सीबीआई के छापे डलवाए, मेरे दफ्तर में , मेरे घर में सीबीआई के छापे डलवाए, हमें नाकाम करने की सारी कोशिशे करीं।  इतने सब के बाद भी हमने दिल्ली के शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में जो बदलाव किए हैं, वो देश के किसी भी राज्य में नहीं हुए। लेकिन अभी भ्रष्टाचार मुक्त भारत का सपना अधुरा है। हमें अभी उसके लिए बहुत मेहनत करनी है। 

कांग्रेस ने सपा-बसपा गठबंधन पर साधी चुप्पी, अकेले लड़ने के दिए संकेत

भ्रष्टाचार की जो रेल कांग्रेस ने चला रखी थी, अब उसका स्टेरिंग मोदी जी ने अपने हाथ में ले लिया है।  सिर्फ भ्रष्टाचारी बदले हैं, भ्रष्टाचार जस का तस है।  हम सबको मिलकर इस भ्रष्टाचार को जड़ से उखाड़ कर फैकना है।  एक समय था जब हम सबने मिलकर भ्रष्ठ कांग्रेस को देश कि सत्ता से उखाड़ फेंका था। लेकिन आज कांग्रेस से भी बड़े गुंडे देश की सत्ता में आकर बैठ गए हैं। 

BSP-SP गठबंधन में RLD को नहीं मिलीं मनमाफिक सीटें, नाउम्मीद नही हैं नेता

आज देश में मोदी और अमित शाह की तानशाही पुरे चरम पर है। अगर ये लोग 2019 में दोबारा सत्ता में आ गए, तो ये देश के संविधान को ख़त्म कर डालेंगे। आज फिरसे देश को हम सबकी ज़रूरत है।  एक बार फिरसे हम सबको मिलकर इन भ्रष्टाचारियों को जड़ से उखाड़ कर फैकना है।  आज एक बार फिर आप लोगो को मिलकर मोदी और अमित शाह की इस तानाशाही की सरकार को उखाड़ कर फैकना है। आप सबको पूरी मेहनत करनी है, और दिल्ली की सातों सीट पर भाजपा को हराना है। 

BJP बोली- लोकसभा चुनाव में सपा-बसपा गठजोड़ का यूपी में नहीं होगा असर

पिछली लोकसभा के सभी कार्यकर्ताओं की तरह ही अरविन्द केजरीवाल ने पूर्वी दिल्ली लोकसभा के सारे कार्यकर्ताओं को डोर टू डोर का गणित समझाया।  उन्होंने कहा कि हमें जनता के बीच जाकर उन्हें समझाना होगा, कि पिछली बार लोकसभा में 46% वोट भाजपा को मिला था, 33% आम आदमी पार्टी को मिला था, और 15% वोट कांग्रेस को मिला था। आज सारे सर्वे बोल रहे हैं कि इस बार भाजपा 10% नीचे जाएगी। 

राहुल गांधी ने दुबई में भी अहम मुद्दों पर PM मोदी पर साधा निशाना

आप को जनता को ये समझाना है कि अगर ये 10% कांग्रेस को जाता है तो कांग्रेस 25%, आप 33% और भाजपा 36% पर आ जाएगी, और एक बार फिर से भाजपा जीत जाएगी। लेकिन अगर ये 10% आम आदमी पार्टी को मिलता है तो आम आदमी पार्टी का वोट 43% प्रतिशत हो जाएगा। और दिल्ली कि सातों सीट आम आदमी पार्टी जीत जाएगी। आपको जनता को समझाना है कि कांग्रेस को वोट देने का मतलब है भाजपा को जिताना। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.