Thursday, Mar 21, 2019

केजरीवाल सरकार ने गेस्ट टीचर्स को लेकर गेंद मोदी सरकार के पाले में डाली

  • Updated on 3/7/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। गेस्ट टीचर्स को लेकर दिल्ली की केजरीवाल सरकार और केंद्र की मोदी सरकार के बीच ठन गई है। दोनों इस मामले में काफी समय से एक-दूसरे को लपेटते रहे हैं। लेकिन, अब लोकसभा चुनाव से पहले इसने उस समय तूल पकड़ लिया, जब दिल्ली अधीनस्थ बोर्ड ने दिल्ली हाई कोर्ट को सूचित किया है कि गेस्ट टीचर्स की परफॉर्मेंस परीक्षा में बेहद खराब रही है। इसके बाद काफी टीचरों की नौकरी खतरे में पड़ गई। 

AAP सांसद संजय सिंह बोले- सुप्रीम कोर्ट अवमानना की सजा दे, लेकिन...

राहुल गांधी, सोनिया गांधी की लोकसभा चुनाव के लिए सीटों का ऐलान

दिल्ली भाजपा के नेता जहां इसके लिए केजरीवाल सरकार जिम्मेदार मान रहे हैं, वहीं हरियाणा सरकार के कदम को उदारहण के तौर पर पेश करते हुए आम आदमी पार्टी पर हमला कर रहे हैं। भाजपा सांसद मनोज तिवारी ने अपनी ट्वीट में वीडियो पोस्ट कर कहा, '#GuestTeacher की समस्या उसी पद्धति से दूर हो सकती है जो हरियाणा की भाजपा सरकार ने बनाई..लेकिन @msisodia जी आपको ये तब समझ में आया, जब ये 22k शिक्षक बेरोज़गार हो आपके घर धरने पे बैठ गये..।'

पूर्ण राज्य के लिए केजरीवाल का जनता के नाम खत, कांग्रेस-भाजपा को कोसा

जल्द घोषित होंगी लोकसभा चुनाव की तारीखें, मोदी कैबिनेट ने लिए अहम फैसले

इसी ट्वीट को टैग करते हुए दिल्ली सरकार में शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने भी पलटवार किया है। वह अपने ट्वीट में लिखते हैं, 'आदरणीय सांसद जी! आपकी पार्टी की ही पद्वति वाली पॉलिसी कल मैंने, कैबिनेट से पास करवाकर, एलजी साहब को सौंप दी है। मेरे छात्रों व गेस्ट टीचर्स पर बड़ी मेहरबानी होगी, अगर एलजी साहब से इसे आज ही मंजूर करवाकर लागू करवा दें। मैंने अपना काम कर दिया, अब आप भी अपने हिस्से का काम करवा दीजिए।

राफेल मामले में मोदी सरकार की दलीलों पर प्रेस संगठनों ने जताई चिंता

अब देखना होगा कि केंद्र की मोदी सरकार आम आदमी पार्टी सरकार के इस अहम कदम पर क्या कदम उठाती है। अगर केजरीवाल सरकार की पारित पॉलिसी को मोदी सरकार उपराज्यपाल के जरिए मंजूर कर देती है, तो गेस्ट टीचर्स को बड़ी राहत मिल सकती है। मोदी सरकार के अगले कदम पर अब सभी की निगाहे टिकी हुई हैं। 

राफेल से जुड़ी फाइलें गायब होने पर AAP का तंज- 'चौकीदार सो रहा था'

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.