arvind-kejriwal-aap-happy-with-dmrc-proposal-on-free-travel-of-women-in-dtc-delhi-metro

केजरीवाल खुश हैं महिलाओं के लिए फ्री ट्रेवल पर DMRC के प्रपोजल से

  • Updated on 6/12/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हाल ही में महिलाओं के लिए डीटीसी और दिल्ली मेट्रो में फ्री सफर करने का ऐलान किया था। इसको लेकर उन्होंने दिल्ली मेट्रो और डीटीसी से प्रपोजल मांगा था। अब दिल्ली मेट्रो और डीटीसी ने अपने प्रस्ताव आम आदमी पार्टी सरकार को सौंप दिए हैं। केजरीवाल दोनों के ही प्रस्तावों से खुश हैं। 

तो क्या कमलनाथ सरकार गिराने के लिए दिग्विजय, सिंधिया के समर्थक जुटे हैं?

चक्रवात वायु : गुजरात में परिवहन सेवाएं, बंदरगाह पर कामकाज रोका

इसके लिए केजरीवाल ने बाकायदा प्रेस कांफ्रेंस कर बताया कि डीएमआरसी महिलाओं के लिए फ्री यात्रा के लिए तैयार है और यह बहुत ही सकारात्मक कदम है। हालांकि उन्होंने बताया कि दिल्ली मेट्रो ने इस प्रस्ताव को लागू करने के लिए आठ महीने का वक्त मांगा है। लेकिन, सरकार की कोशिश होगी कि अस्थायी तौर पर इसे दो-तीन महीने में लागू कर दिया है। 

गुजरात तट पर टकराने के बाद भी सशक्त रह सकता है चक्रवात वायु

केजरीवाल ने कहा कि फ्री सफर लागू होने से मेट्रो का मानना है कि महिलाओं की संख्या में 50 फीसदी का इजाफा होगा। लेकिन, सरकार ने इसका खर्च वहन करने के लिए बजट भी रख लिया है। भाजपा सांसद विजय गोयल पर निशाना साधते हुए उन्होंने सवाल किया कि जो लोग हमारी सरकार के इस कदम को मर्दों के साथ भेदभाव होने का आरोप लगा रहे हैं, वह सही नहीं कर रहे हैं। 

पीएम मोदी ने नृपेंद्र मिश्रा और पीके मिश्रा पर फिर से जताया भरोसा

पवार ने EVM को लेकर जताया संदेह, बोले- दिल्ली में विपक्ष करेगा बैठक

उन्होंने कहा कि महिलाओं को फ्री सेवा मिलने से उन सभी पुरूषों का भी फायदा होगा, जिनकी बेटी, पत्नी, मां और बहन इस सेवा का फायदा उठाएंगी। इससे महिलाओं के सशक्तिकरण में भी इजाफा होगा। केजरीवाल ने कहा कि उनकी सरकार ने पूरी ईमानदारी से काम किया है, इस वजह से सरकार मुनाफे में हो और जनता को हर प्रकार की सुविधाएं दे रही हैं। 

CBDT ने लंबित पड़े सतर्कता मुद्दों पर 4 आयकर अधिकारियों की रैंक घटाई

दिल्ली के सीएम ने कहा कि डीटीसी की ओर से भी उन्हें इस संबंध में प्रस्ताव मिल गया है और यहां फ्री सेवा को लागू करने में कोई परेशानी नहीं है। लेकिन, मेट्रो में कुछ तकनीकी बदलाव करने का बाद इसे लागू किया जा सकेगा। सरकार चाहती है कि मेट्रो में इस दिशा में दो-तीन महीनों में काम हो जाए। इसके लिए अफसरों से बात की जाएगी। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.