Monday, Nov 28, 2022
-->
arvind kejriwal announced manufacturing will not be allowed in delhi industrial areas rkdsnt

मोदी सरकार की हरी झंडी के बाद केजरीवाल का ऐलान- औद्योगिक क्षेत्रों में मैन्युफैक्चरिंग बंद

  • Updated on 11/2/2020


नई दिल्ली/टीम डिजिटल। राष्ट्रीय राजधानी में प्रदूषण कम करने के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को कहा कि शहर के नये औद्योगिक क्षेत्रों में किसी विनिर्माण इकाई को अनुमति नहीं दी जाएगी और वहां केवल सेवा तथा हाईटेक उद्योगों की इजाजत होगी। 

मप्र उपचुनाव से पहले कमलनाथ मामले में चुनाव आयोग को सुप्रीम कोर्ट ने दिया झटका

माकपा ने पीएम स्वनिधि योजना को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा

केजरीवाल ने ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन में कहा कि केंद्र ने दिल्ली के मास्टर प्लान 2021 में उद्योग की परिभाषा बदलकर दिल्ली सरकार के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है और इसे लागू करने के लिए अधिसूचना जारी कर दी गयी है। उन्होंने कहा कि प्रदूषण फैलाने वाली मौजूदा विनिर्माण इकाइयों को सेवा या हाईटेक उद्योग में परिवर्तन का विकल्प दिया जाएगा। 

BJP को रोकने के लिए 2019 में जरूरी था BJP से गठबंधन : अखिलेश

हालांकि, एक अधिकारी ने स्पष्ट किया कि मौजूदा विनिर्माण इकाइयों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी और उन्हें परिवर्तन के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा।  मुख्यमंत्री ने उम्मीद जताई कि दिल्ली में कोई विनिर्माण उद्योग नहीं होगा क्योंकि वे बहुत प्रदूषण फैलाते हैं। केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली की अर्थव्यवस्था मुख्यत: सेवा उद्योग पर आधारित है। हाईटेक और सेवा उद्योग को औद्योगिक क्षेत्रों में सस्ती दरों पर जगह मुहैया कराई जाएगी। 

राज्यसभा के लिए यूपी से 10 सदस्य निर्विरोध निर्वाचित, भाजपा ने मारी बाजी

 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.