Monday, Nov 29, 2021
-->
aryan khan fell victim to a conspiracy to divert attention from ashish mishra episode albsnt

कपिल सिब्बल का दावा, आशीष मिश्रा प्रकरण से ध्यान भटकाने की 'साजिश' का शिकार हुए आर्यन

  • Updated on 10/15/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। अक्टूबर के पहले सप्ताह में उत्तरप्रदेश और महाराष्ट्र से दो अलग-अलग खबर ने पूरे देश का ध्यान अपनी तरफ खींचा। बॉलीवुड के बादशाह शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान 2 अक्टूबर को गिरफ्तार हुए तो वहीं 3 अक्टूबर को देश के गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा सवालों के घेरे में आ गए। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने दावा किया है कि लखीमपुर खीरी में किसानों की हत्या से ही ध्यान भटकाने के लिये आर्यन खान को निर्दोष होने के वाबजूद जानबूझकर घसीटा जा रहा है। उन्होंने कहा कि बहुत हद तक मोदी सरकार आशिष मिश्रा के मामले से लोगों का ध्यान मुंबई आर्यन खान मामले पर शिफ्ट करने में सफल रहे है।

जितेंद्र सिंह ने विपक्ष की आलोचनाओं के बीच सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के गिनाए फायदे

बता दें कि आर्यन खान की जमानत याचिका पर गुरुवार को भी सुनवाई हुई। लेकिन एक बार फिर 20 अक्टूबर तक के लिये टाल दिया गया है। जिससे आर्यन खान को अब भी मुंबई के आर्थर जेल में रहना पड़ रहा है। कपिल सिब्बल ने आश्चर्य जताते हुए कहा कि आर्यन खान के पास कोई ड्रग्स नहीं मिले है। इसके बाद भी उसे प्रताड़ित किया जा रहा है।

स्थापना दिवस बोले RSS प्रमुखः जम्मू- कश्मीर में लोगों को चुनकर निशाना बना रहे आतंकी

मालूम हो कि मुंबई से गोवा जा रही क्रूज शिप में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने छापा मारा। जहां से शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को उसके साथियों समेत गिरफ्तार किया गया। उसके बाद से ही एनसीबी आर्यन खान के जमानत का विरोध करती रही है। हालांकि विपक्ष ने बीजेपी नेता के कथित जासूसी से आर्यन खान की गिरफ्तारी पर सवाल उठाया है। दूसरी तरफ लखीमपुर खीरी मामले को लेकर कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की। जिसमें राहुल गांधी ने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बर्खास्तगी करने की मांग की।  

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.