Wednesday, Oct 16, 2019
Ashwini Upadhyay warns Modi government about population explosion to hold huge protest

जनसंख्या विस्फोट को लेकर अश्विनी उपाध्याय ने मोदी सरकार को चेताया,13 अक्टूबर को करेंगे प्रदर्शन

  • Updated on 10/10/2019

नई दिल्ली/कुमार आलोक भास्कर। जब प्रदूषण को लेकर देश भर में चिंता जाहिर की जा रही है। यहां तक कि प्रदूषण को लेकर दिल्ली (Delhi) के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) अपनी पीठ थपथपाने के लिये डेनमार्क (Denmark) जाने को भी उत्सुक थे। लेकिन इस बीच दिल्ली बीजेपी (Delhi Bjp) के दिग्गज नेता अश्विनी उपाध्याय (Ashwani Upadhyay) ने जनसंख्या को लेकर बहुत बड़ी बहस छेड़ दी है। उन्होंने कहा है कि आज जितने भी तरह के प्रदूषण है सबके जड़ में जनसंख्या का विकराल होता समस्या है। जिसकी हम सब उपेक्षा करते जा रहे है। उन्होंने कहा कि जनसंख्या को लेकर लोगों में जागरुकता लाने और मोदी सरकार से संविधान संशोधन करके एक कानून की मांग करने के लिये 13 अक्टूबर को हजारों लोग जन्तर-मंतर पहुंचेंगे।


बिहारः सियासी तूफान पर जदयू नेता के बयान से विरोधी दलों में क्यों बढ़ी है बैचेनी

मेरठ से यात्रा 11 अक्टूबर को निकलेगी

अश्विनी उपाध्याय ने जोर देकर कहा है कि यह यात्रा 11अक्टूबर को लोकनायक जयप्रकाश के जन्मदिन के उपलक्ष्य में 11 बजे मेरठ से चलकर दिल्ली के लिये कूच करेगी। उन्होंने कहा कि इस यात्रा में  केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, डॉक्टर संजीव बाल्यान, जनरल वीके सिंह, सांसद राजेन्द्र अग्रवाल, डॉक्टर सत्यपाल सिंह, डॉक्टर महेश शर्मा, दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी सहित अनेक सांसद उपस्थित रहेंगे। उन्होंने इस कार्यक्रम पर विस्तार से बताते हुए कहा कि इस यात्रा  को समाज के सभी वर्गों का समर्थन हासिल है। इस यात्रा में लगभग 10 हजार लोग सम्मिलित होंगे। उन्होंने कहा कि जनसंख्या से आज 21 तरह की समस्या का सीधा संबंध है। जिसकी लंबे समय तक हम उपेक्षा नहीं कर सकते है।

महाराष्ट्र विधानसभा चुनावः गृह मंत्री ने कांग्रेस- NCP को क्या दी नसीहत

सभी समस्या के केंद्र में है जनसंख्या  
उन्होंने कहा कि जनसंख्या के मामले में अघोषित तरीके से हमारा देश आज चीन से भी आगे निकल गया है। हम समस्या का जब तक समाधान की बात करते है,तब तक जनसंख्या तेजी से बढ़ जाती है। अब सभी समस्याओं की जननी जनसंख्या पर प्रहार करने की आवश्यकता है। उन्होंने दावा किया कि आज 5 करोड़  बंगलादेशी और रोहिंग्या घुसपैठिये भी भारत में रह रहे है। जिसको लेकर भी सरकार को चिंता करने की जरुरत है। आज हमारे देश की जनसंख्या 150 करोड़ को पार कर चुका है। 

जम्मू-कश्मीर में शहला रशिद ने BDC चुनाव का किया विरोध, छोड़ी राजनीति

लंबे समय तक हम जनसंख्या का नहीं कर सकते है उपेक्षा  
अश्विनी उपाध्याय ने कहा कि हमारे देश का क्षेत्रफल चीन के तुलना में एक तिहाई है। दुनिया के महज 2 प्रतिशत ही कृषि योग्य भूमि है। इसके अलावा पूरे दुनिया के मात्र 4 प्रतिशत ही पीने योग्य पानी बचा हुआ है। यहीं नहीं जनसंख्या वृद्धि की दर तो चीन से भी तीन गुना तेजी से बढ़ रहा है। यानी आज भारत में प्रति मिनट 33 बच्चों का जन्म हो रहा है। जबकि चीन में प्रति मिनट 11 बच्चे का जन्म होता है। फिर भी हम जनसंख्या पर कोई ठोस कानून तक नहीं बना पा रहे है। उन्होंने याद दिलाया कि पीएम ने भी लालकिला से जनसंख्या के विस्फोट से देश को सचेत रहने पर बल दिया था। जिसका हम स्वागत करते है। उन्होंने मांग कि संसद के आगामी सत्र में मोदी सरकार को जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाने को लेकर बिल पेश करना चाहिये।

comments

.
.
.
.
.