करोल बाग अग्निकांड: होटल के आपातकालीन द्वार पर लगा था ताला- अल्फोंस

  • Updated on 2/12/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। केन्द्रीय मंत्री के.जे अल्फोंस ने मंगलवार को कहा कि करोलबाग के जिस अर्पित पैलेस होटल में भीषण आग लगी उसका आपातकालीन द्वार ‘‘बहुत संकरा’’ था और उस पर ताला भी लगा था। मध्य दिल्ली के करोल बाग इलाके में हुई इस दुर्घटना में 17 लोगों की जान चली गई। 

बड़े बेआबरू होकर कोर्ट रूम से निकले CBI के पूर्व अंतरिम निदेशक नागेश्वर राव 

घटनास्थल का दौरा करने के बाद मंत्री ने कहा कि उन्हें लगता है कि नियमों का उल्लंघन हुआ है। केन्द्रीय पर्यटन मंत्री ने कहा कि होटल के अंदर लकड़ी के कई ढांचे थे, जिनसे आग को फैलाने में मदद मिलने की आशंका है। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘जब मैं आपातकालीन द्वार के पास गया तो मैंने देखा कि इस पर बीती रात ताला लगा था।

मायावती के बाद अखिलेश को मिला केजरीवाल का साथ, BJP निशाने पर

यह बहुत संकरा भी था।’’ उन्होंने कहा, ‘‘जाहिर तौर पर, अगर लोग आपातकालीन द्वार पर आए भी होते तो वे बच नहीं सकते थे, क्योंकि यह बहुत संकरा था और इस पर ताला भी लगा था।’’ अल्फोंस ने कहा कि उन्होंने महापौर से बात करके यह पता करने को कहा है कि सभी नियमों का पालन हो रहा था या नहीं और अगर होटल प्रबंधन द्वारा कोई लापरवाही बरती गई तो तत्काल कार्रवाई की जाए। 

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.