Tuesday, Oct 04, 2022
-->
australia-wall-between-indian-men-hockey-team-and-commonwealth-gold

भारतीय पुरूष हॉकी टीम और राष्ट्रमंडल स्वर्ण के बीच आस्ट्रेलिया की दीवार 

  • Updated on 8/7/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारतीय पुरूष हॉकी टीम राष्ट्रमंडल खेलों के फाइनल में सोमवार को उतरेगी तो उसका इरादा इन खेलों में आस्ट्रेलिया का दबदबा तोडऩे का होगा। भारत ने अब तक राष्ट्रमंडल खेलों में छह में से एक भी बार स्वर्ण नहीं जीता है । इन खेलों में 1998 में हॉकी को शामिल किया गया जिसके बाद से 2010 और 2014 में भारत ने रजत पदक जीते हैं । दूसरी ओर आस्ट्रेलिया ने सभी छह स्वर्ण अपने नाम किये हैं ।  

परीक्षा स्थगित करने की मांग को लेकर डीयू विधि संकाय के छात्रों की हड़ताल जारी 

 

भारत के लिये आस्ट्रेलिया को हराकर पीला तमगा जीतना आसान नहीं होगा और इसके लिये उसे अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा । तोक्यो ओलंपिक में हालांकि 41 साल बाद पदक जीतने वाली भारतीय टीम आत्मविश्वास से ओतप्रोत है । भारत का रजत तो पक्का है लेकिन स्वर्ण सोने पे सुहागा होगी और मनप्रीत सिंह की टीम यह मौका चूकना नहीं चाहेगी। भारत ने दक्षिण अफ्रीका को और आस्ट्रेलिया ने मेजबान इंग्लैंड को 3 . 2 से हराकर फाइनल में जगह बनाई ।   

संसद निष्क्रिय हो गई है; लोकतंत्र ‘सांस लेने के लिए संघर्ष’ कर रहा: चिदंबरम 

    गोलकीपर पी आर श्रीजेश की अगुवाई में भारतीय रक्षापंक्ति काफी मजबूत है लेकिन आस्ट्रेलिया के सामने कोई भी गलती भारी पड़ सकती है। मिडफील्ड में कप्तान मनप्रीत , हाॢदक सिंह और नीलाकांता शर्मा जिम्मा संभालेंगे । भारतीय फॉरवर्ड पंक्ति ने अभी तक अच्छा प्रदर्शन किया है । मनदीप सिंह और आकाशदीप सिंह के साथ शमशेर सिंह, ललित उपाध्याय , गुरजंत सिंह और अभिषेक फॉर्म में हैं। कांस्य पदक के प्लेआफ में इंग्लैंड का सामना दक्षिण अफ्रीका से होगा ।    

गुजरात में केजरीवाल ने कीं आदिवासियों के लिए कई घोषणाएं 


 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.