Sunday, Oct 17, 2021
-->
auto industry news vehicle prices may increase sohsnt

Auto Industry: वाहनों की कीमतों में हो सकती है बढ़ोतरी, कंपनियों ने दिए संकेत

  • Updated on 2/16/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश में कच्चे माल में लगातार हो रही वृद्धि के चलते वाहनों (Vehicles) की कीमत में दोबारा बढ़ोतरी हो सकती है। कंपनियों ने 1 से 3 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी के संकेत दिए हैं। कोरोना महामारी के चलते ऑटो इंइस्ट्री (Auto Industry) पहले से ही घाटे से गुजर रही है। ऐसे में कच्चे माल में वृद्धि होना इंडस्ट्री के लिए एक और बड़ा झटका साबित हो सकता है। इस घाटे से उबरने के लिए कंपनियां कीमतों में बढ़ोतरी कर सकती हैं। 

भारत में घटिया गाड़ियां बेचने वाली कंपनियों पर सरकार का एक्शन, बिक्री बंद करने का दिया आदेश

मई में ये कंपनियां कीमते बढ़ा सकती हैं
महिंद्रा एंड महिंद्रा, आयशर मोटर्स और अशोक लेलैंड अप्रैल- मई में कीमतों में बढ़ोतरी कर सकती हैं। कई कंपनियों ने पहले अक्टूबर 2020 व जनवरी में भी कीमतों में वृद्धि की थी। मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज की रिपोर्ट के अनुसार जनवरी 2021 में भारत में स्टील खपत 9 प्रतिशत सालाना और तीन प्रतिशत माह-दर-माह बढ़कर 9.97 मिलियन टन हो गई है। 

नितिन गडकरी ने कहा- वाहन कबाड़ नीति में नए वाहनों की खरीद पर मिलेंगे कई लाभ

विकास बजाज ने कही ये बात
एसोशिएशन ऑफ इंडियन फोर्जिंग इंडस्ट्री के अध्यक्ष विकास बजाज ने कहा कि स्टील मिलों ने जनवरी में 7, 250 रुपए प्रति टन की एक और बढ़ोतरी देखी। बजाज ने कहा कि अगर वह 100 टन का ऑर्डर देते हैं, तो उन्हें केवल 20 से 30 टन ही मिल रहा है। स्टील की कीमतों में बढ़ोतरी ने फोर्जिंग स्टील निर्माताओं को भी प्रभावित किया है। 

भारत में घटिया गाड़ियां बेचने वाली कंपनियों पर सरकार का एक्शन, बिक्री बंद करने का दिया आदेश

क्या डीजल का विकल्प हो सकती है सीएनजी
देश में लगातार तेल के दामों में हो रही वृद्धि को देखते हुए सरकार सीएनजी को विकल्प के रूप में देख रही है। इस योजना को धरातल पर उतारने कि दिशा में एक बड़ी पहल करते हुए हाल ही में सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने सीएनजी (CNG) से चलने वाला देश का पहला ट्रैक्टर लॉन्च किया। केंद्रीय मंत्री ने कहा, अब ट्रैक्टर सिर्फ डीजल पर निर्भर नहीं रहेंगे। उन्हें चलाने के लिए हमारे पास दूसरा विकल्प आ गया है। गडकरी ने कहा किसान सीएनजी के इस्तेमाल से एक साल में एक लाख रुपए तक की बचत कर सकेंगे। इतना ही नहीं बल्कि ये टैक्टर वायु प्रदूषण कम करने में काफी मददगार साबित होंगे।

नितिन गडकरी ने कहा- वाहन कबाड़ नीति में नए वाहनों की खरीद पर मिलेंगे कई लाभ

बड़े स्तर पर लोगों को मिलेगा रोजगार
केंद्रीय मंत्री ने आगे बताया कि प्रथम चरण में शहरों में नगर बसों, टैक्सी, कारों और बाइक को वैकल्पिक ईंधन पर लाया जाएगा। इसके बाद धीरे-धीरे इसे अंतरराज्यीय सार्वजनिक बस सेवा और ट्रकों को वैकल्पिक ईंधन पर बदला जाएगा। उन्होंने कहा इस योजना के शुरू होते ही बड़े स्तर पर लोगों को रोजगार मिलेगा। बता दें कि इस योजना के तहत सरकार हर साल पेट्रोलियम पदार्थ पर होने वाले खर्च को कम करना चाहती है।

यहां पढ़ें ऑटो सेक्टर से जुड़ी अन्य खबरें...

 

comments

.
.
.
.
.