Sunday, Jan 19, 2020
ayodhya case verdict supreme court judgement tejashwi yadav rjd

Ayodhya Case Verdict: विपक्ष के नेताओं ने भी किया SC के फैसले का सम्मान

  • Updated on 11/9/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। अयोध्या (Ayodhya) राम जन्म भूमि- बाबरी मस्जिद विवाद (Ram Mandir-Babri Masjid Case) पर आए सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के फैसले का सत्ता पक्ष-विपक्ष दोनों ने मिलकर स्वागत किया है। 

सब हमारे थे, हैं और रहेंगे- तेजस्वी
बिहार (Bihar) विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने कोर्ट के फैसले का स्वागत करते हुए ट्वीट किया है। उन्होंने लिखा, "माननीय सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का सहदय सम्मान करते हैं। देश का प्रत्येक मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारा, चर्च हमारा ही है। कुछ भी और कोई भी पराया नहीं है। सब अपने है।"

तेजस्वी यादव ने मोदी सरकार और नीतीश सरकार पर तंज कसते हुए आगे कहा, "अब राजनीतिक दलों का ध्यान अच्छे स्कूल, कॉलेज, विश्वविद्यालय और अस्पताल बनाने एवं युवाओं को रोजगार दिलाने पर होना चाहिए।"

सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद RSS प्रमुख ने कहा- अयोध्या में मिलजुल कर बनाएंगे राम मंदिर

सौहार्दपूर्ण वातावरण में ही आगे काम होना चाहिए- मायावती
अयोध्या मामले में उच्चतम न्यायालय का फैसला आने के बाद बहुजन समाज पार्टी (BSP) प्रमुख मायावती (Mayawati) ने इस फैसले का सम्मान करते हुये कहा कि अब इस संबंध में सौहार्दपूर्ण वातावरण में आगे का काम होना चाहिए। मायावती ने शनिवार दोपहर को फैसले के बाद ट्वीट किया, "परमपूज्य बाबा साहेब डॉ. भीमराव आम्बेडकर के धर्मनिरपेक्ष संविधान के तहत माननीय उच्चतम न्यायालाय द्वारा रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद के सम्बंध में आज आम सहमति से दिए गए ऐतिहासिक फैसले का सभी को सम्मान करते हुए अब इस पर सौहार्दपूर्ण वातावरण में आगे काम करनी चाहिए, ऐसी अपील और सलाह है।"

'राम लला' के वकील वैद्यनाथन ने कहा- बेहद संतुलित फैसला, भारत के लोगों की जीत

फैसले का सभी मिलकर सम्मान करें-कमलनाथ

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) ने कहा कि सभी को मिलकर फैसले का सम्मान करना चाहिए और किसी प्रकार के उत्साह, जश्न या विरोध का हिस्सा नहीं बनना चाहिए।

Afternoon Bulletin: एक क्लिक में पढ़े अयोध्या पर SC के फैसले से जुड़ी 5 बड़ी खबरें

सुप्रीम कोर्ट ने जमीन राम जन्मभूमि न्यास को दी
अयोध्या राम जन्मभूमी विवाद पर सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला आज सुना दिया है। अपने फैसले में सुप्रीम कोर्ट ने विवादित जमीन राम जन्मभूमि न्यास को दे दी है। सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार को अयोध्या में विवादित स्थल राम जन्मभूमि पर मंदिर के निर्माण का मार्ग प्रशस्त करते हुए केन्द्र सरकार को निर्देश दिया कि सुन्नी वक्फ बोर्ड को मस्जिद के निर्माण के लिये 5 एकड़ भूमि आवंटित की जाए।  

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.