Monday, Nov 18, 2019
ayodhya dispute AIMIM Asaduddin Owaisi We don''t need a bailout

अयोध्या पर फैसले के बाद बोले ओवैसी, हमें खैरात की नहीं जरूरत

  • Updated on 11/9/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। अयोध्या (Ayodhya) मामले में सालों से चल रहे विवाद पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court of India) ने ऐतिहासिक फैसला सुनाते हुए कहा कि विवादित जमीन पर रामजन्मभूमि न्यास का हक है। वहीं मुस्लिम पक्ष को मस्जिद बनाने के लिए अयोध्या में अलग से 5 एकड़ जमीन सुन्नी वक्फ बोर्ड को दी जाएगी। 

अयोध्या फैसले पर तुषार का तंज- बापू की हत्या पर आज फैसला आए तो गोडसे हत्यारे लेकिन देशभक्त होंगे

ओवैसी ने कहा हमें खैरात की जरूरत नहीं
सुप्रीम कोर्ट में फैसले के बाद एआईएमआईएम (All India Majlis-e-Ittehadul Muslimeen) चीफ असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने कहा कि, मैं वकीलों की टीम को धन्यवाद देता हूं। मैं मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की इस बात से सहमत हूं कि सुप्रीम कोर्ट सुप्रीम है, लेकिन वह अचूक नहीं है। 

ओवैसी ने कहा कि मुस्लिम समाज ने अपने वैधानिक हक के लिए संघर्ष किया। हमें खैरात की जरूरत नहीं है। उन्होंने आगे कहा कि ये मेरा निजी तौर पर मानना है कि हमें 5 एकड़ जमीन के ऑफर को वापस लौटा देना चाहिए। उन्होंने कहा कि फैक्ट्स पर आस्था की जीत हुई है। और मुझे इस बात की चिंता है कि संघ अब काशी और मथुरा के मुद्दे को भी उठाएगा।

 

ओवैसी ने कहा कि मुस्लिम पक्ष अपने कानूनी हक की लडड़ाई लड़ रहे थे। उन्होंने कहा कि मुस्लिम पक्ष अपने पैसे से अपने लिए मस्जिद बना सकता है इसी के साथ उन्होंने कहा सर्वोच्च न्यायल्य सर्वोच्च जरूर है लेकिन अचूक नहीं।

comments

.
.
.
.
.