Thursday, Jun 01, 2023
-->
babri demolition lk advani welcomed coury decision by raising slogan jai shri ram rkdsnt

बाबरी विध्वंस: आडवाणी ने ‘जय श्री राम’ का नारा लगाकर किया फैसले का स्वागत

  • Updated on 9/30/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। बाबरी विध्वंस मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो (cbi) की विशेष अदालत द्वारा बरी किए जाने के बाद भाजपा के वयोवृद्ध नेता व देश के पूर्व उपप्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी ने ‘‘जय श्री राम’’ का नारा लगाया और अदालत के फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि यह ‘‘रामजन्मभूमि आंदोलन’’ को लेकर उनकी निजी और भाजपा की प्रतिबद्धता को साबित करता है। आडवाणी इस मामले के 32 आरोपियों में एक और राम जन्मभूमि आंदोलन के अगुवा थे। राम मंदिर निर्माण के लिए उन्होंने सोमनाथ से अयोध्या तक रथयात्रा शुरू की थी। 

हाथरस बलात्कार पीड़िता के परिजनों का आरोप- पुलिस ने जबरन किया अंतिम संस्कार

आडवाणी ने एक वीडियो संदेश में कहा, ‘‘विशेष अदालत का आज का जो निर्णय हुआ है वह अत्यंत महत्वपूर्ण है और वह हम सबके लिए खुशी का प्रसंग है। जब हमने अदालत का निर्णय सुना तो हमने जय श्री राम का नारा लगाकर इसका स्वागत किया।’’ बाद में एक बयान जारी कर उन्होंने कहा, ‘‘यह रामजन्मभूमि आंदोलन को लेकर उनकी निजी और भाजपा की प्रतिबद्धता को साबित करता है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं धन्य महसूस करता हूं कि यह निर्णय उच्चतम न्यायालय के नवंबर 2019 के ऐतिहासिक फैसले के पदचिह्नों पर है, जिसने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के मेरे सपने का मार्ग प्रशस्त किया, जिसका शिलान्यास पांच अगस्त 2020 को किया गया।’’ 

हाथरस रेप कांड की CBI जांच और केस दिल्ली ट्रांसफर करने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका

अदालत के फैसले के बाद 92 वर्षीय आडवाणी अपने कमरे से बाहर निकले और ‘जय श्री राम’ का नारा लगाते हुए मीडिया का अभिवादन किया।     मीडिया से मुखातिब आडवाणी ने कहा, ‘‘बहुत दिनों बाद अच्छा समाचार आया है... और इसलिए मैं तो आज इतना ही कह सकता हूं...आज के अवसर के लिए... जय श्री राम।’’ अदालत जब अपना फैसला सुना रही थी उस वक्त आडवाणी अपने परिवार के सदस्यों के साथ टेलीविजन देख रहे थे। उनकी पुत्री प्रतिभा आडवाणी उनकी हाथ पकड़े थीं। 

हाथरस गैंग रेप मामले में न्याय के लिए दिल्ली महिला आयोग ने CJI बोबडे से लगाई गुहार

आडवाणी ने कहा, ‘‘मैं पार्टी के कार्यकर्ताओं, नेताओं, संतों और निस्वार्थ भाव से अपनी भागीदारी और बलिदान देने वाले सभी लोगों के प्रति कृतज्ञता ज्ञापित करता हूं, जिन्होंने मुझे अयोध्या आंदोलन के दौरान ताकत और सहयोग दिया।’’ भाजपा नेता ने कहा कि अब वे करोड़ों भारतीयों के साथ अयोध्या में सुंदर राम मंदिर देखना चाहते हैं। गौरतलब है कि सीबीआई की विशेष अदालत ने छह दिसम्बर 1992 को अयोध्या में बाबरी मस्जिद ढहाए जाने के मामले में बुधवार को अपना फैसला सुनाते हुए सभी आरोपियों को बरी कर दिया।  

सपा और AAP ने लगाए यौन उत्पीड़न के आरोपी BJP नेताओं के पोस्टर

विशेष न्यायाधीश एस. के. यादव ने फैसला सुनाते हुए कहा कि बाबरी मस्जिद विध्वंस की घटना पूर्व नियोजित नहीं थी, यह एक आकस्मिक घटना थी। उन्होंने कहा कि आरोपियों के खिलाफ कोई पुख्ता सुबूत नहीं मिले, बल्कि आरोपियों ने उन्मादी भीड़ को रोकने की कोशिश की थी। आडवाणी ने गत 24 जुलाई को सीबीआई अदालत में दर्ज कराए गए बयान में तमाम आरोपों से इनकार करते हुए कहा था कि वह पूरी तरह से निर्दोष हैं और उन्हें राजनीतिक कारणों से इस मामले में घसीटा गया है। 

बाबरी फैसले पर योगी ने कहा,‘सत्यमेव जयते’ 
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को सीबीआई की विशेष अदालत के फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि‘सत्यमेव जयते’के अनुरूप सत्य की जीत हुई है। मुख्यमंत्री ने लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी से फोन पर बात कर उन्हें बधाई दी । मुख्यमंत्री योगी के सूचना सलाहकार मृत्युंजय कुमार द्वारा जारी एक बयान के मुताबिक, मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘यह फैसला स्पष्ट करता है कि तत्कालीन कांग्रेस सरकार द्वारा राजनीतिक पूर्वाग्रह से ग्रसित होकर वोट बैंक की राजनीति के लिए देश के पूज्य संतों, भारतीय जनता पार्टी के नेताओं, विश्व ङ्क्षहदू परिषद से जुड़े वरिष्ठ पदाधिकारियों एवं समाज से जुड़े विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों को बदनाम करने की नीयत से उन्हें झूठे मुकदमों में फंसाकर बदनाम किया गया।’’ 

विहिप ने अदालत के फैसले को न्याय की विजय बताया 
विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) ने बाबरी विध्वंस मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की विशेष अदालत द्वारा सभी 32 आरोपियों को बरी किए जाने के फैसले को ‘‘सत्य और न्याय’’ की जीत बताते हुए कहा कि इस निर्णय ने षड्यंत्र के आरोपों को ध्वस्त कर दिया। विहिप के कार्याध्यक्ष आलोक कुमार ने फैसले के बाद एक बयान जारी कर अपील की कि लोगों को राजनीति से ऊपर उठकर और पीछे देखने की बजाय एक संगठित व विकसित भारत के निर्माण के लिए अब आगे बढऩा चाहिए। 

 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.