Saturday, May 15, 2021
-->
bad news from jaipur amid vaccination corona positive hanged himself in hospital pragnt

राजस्थान: RUHS में इलाज करा रहे कोरोना पॉजिटिव कैदी ने अस्पताल में ही फांसी लगाकर दी जान

  • Updated on 1/25/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश भर में कोरोना वायरस (Coronavirus) का कहर अभी थमा नहीं है लेकिन राहत की बात यह है कि भारत में जोरों-शोरों से वैक्सीनेशन (Vaccination) अभियान जारी है। इस बीच खबर आ रही है कि राजस्थान (Rajasthan) के जयपुर (Jaipur) में एक कोरोना संक्रमित मरीज ने अस्पताल में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। यह मामला जयपुर के RUHS (Rajasthan University of Health Sciences) अस्पताल का है। 

राजस्थान: सलाद में नुक्स निकालना ग्राहक को पड़ा भारी, होटल मालिक ने की जमकर पिटाई

कोरोना संक्रमित था कैदी
राजस्थान की राजधानी जयपुर के एक RUHS (Rajasthan University of Health Sciences) अस्पताल में कोरोना वायरस से संक्रमित एक कैदी ने फांसी लगाकर कथित तौर पर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने मृतक का नाम विनय बताया है। पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, कैदी में कोरोना वायरस के संक्रमण का पता चला था। जिसके बाद उसे शनिवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। RUHS अस्पताल में उसका इलाज चल रहा था।

प्रेमिका के घर पकड़ा गया प्रेमी बॉर्डर क्रॉस कर भाग गया पाकिस्तान, अब मुश्किल में जान

अस्पताल में फांसी लगाकर दी जान
पुलिस ने बताया कि इलाज के दौरान मृतक विनय की हालत में काफी सुधार हो रहा था लेकिन सोमवार सुबह अस्पताल के वॉर्ड में उसने अचानक फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। इसके बाद पुलिस मामले की जांच कर रही है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पुलिस को उसके पास से कोई भी सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है। अधिकारियों ने बताया कि अभी तक यह जानकारी नहीं मिली है कि उसने यह कदम क्यों उठाया है। 

राजस्थान में IT की सबसे बड़ी रेडः सुरंग में मिली 17 बोरी जूलरी, 1400 करोड़ की संपत्ती उजागर

26 हजार से अधिक स्वास्थ्यकर्मियों को लगा टीका
बता दें कि राजस्थान में कोरोना प्रतिरक्षण टीकाकरण के छठे दिन रविवार को 26,255 स्वास्थ्यकर्मियों को टीके लगाए गए जो दिन के तय लक्ष्य का लगभग 66.78 प्रतिशत है। एक सरकारी प्रवक्ता के अनुसार, रविवार को राज्य के 33 जिलों के 408 टीकाकरण केंद्रों पर 39,318 स्वास्थ्यकर्मियों को पहले चरण का टीका लगाया जाना था। निर्धारित समयावधि में 26,255 स्वास्थ्यकर्मियों का टीकाकरण हुआ। इस दौरान राज्य में एईएफआई (टीकाकरण के बाद प्रतिकूल प्रभाव) के 12 मामले सामने आए। गौरतलब है कि देशव्यापी अभियान के साथ राज्य में कोरोना प्रतिरक्षण टीकाकरण की शुरुआत 16 जनवरी को हुई। सप्ताह में चार दिन टीकाकरण का कार्यक्रम है।

Corona Vaccination: तेजी से आगे बढ़ रहा टीकाकरण अभियान, अब तक करीब 16 लाख लोगों को लगा टीका

देश में अब तक करीब 16 लाख लोगों को लगा टीका
दुनिया में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले लगातार सामने आ रहे हैं वहीं दूसरी ओर कोविड से बचाव के लिए टीकाकरण शुरू हो चुका है। भारत में बीते 16 जनवरी से टीकाकरण अभियान की शुरूआत हो चुका है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Ministry of Health & Family Welfare) के अनुसार देश में टीकाकरण अभियान शुरू होने के बाद से अब तक करीब 16 लाख लोगों को टीके लग चुके हैं।  मंत्रालय ने रविवार को बताया कि देश में सिर्फ छह दिनों के भीतर 10 लाख लोगों को कोविड-19 के टीके लगे हैं। बताया जा रहा है कि इस आंकड़े ने अमेरिका और ब्रिटेन जैसे देशों को भी पीछे छोड़ दिया है। 

कोरोना टीकाकरण : ASHA worker की मौत, CITU ने शुरू किया विरोध-प्रदर्शन

देश में कोरोना की स्थिति
देशभर में कोरोना वायरस का कहर थमता हुआ नजर नहीं आ रहा है। भारत (India) में कोरोना से अब तक 1,06,68,674 लोग संक्रमित हो चुके हैं। वहीं इस वायरस की चपेट में आने से अब तक 1,53,508  लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। हालांकि, राहत की बात ये है कि 1,03,29,244 इस वायरस को मात देकर ठीक हो चुके हैं। देश में कोरोना को मात देकर ठीक होने वालों की संख्या सक्रिय मामलों की संख्या से अधिक है। सक्रिय मामलों (Active Cases) की कुल संख्या 1,81,480 है।

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.