10 मई को खुलेंगे श्री बद्रीनाथ धाम के कपाट

  • Updated on 2/10/2019

ऋषिकेश/ब्यूरो। इस बार श्री बद्रीनाथ धाम के कपाट 10 मई को विधि विधान के साथ ब्रह्ममुहूर्त में 4 बजकर 15 मिनट पर खुलेगा। बसंत पंचमी पर्व पर रविवार को श्री बदरीनाथ धाम के कपाट खोलने की तिथि नरेंद्र नगर राजमहल में पूजा पाठ के बाद ग्रह नक्षत्रों को देखते हुए तीर्थ पुरोहित ने कपाट खोलने की घोषणा की।

रविवार को नरेंद्र नगर स्थित राजा के महल में राजपरिवार ने विधि विधान के साथ पूजा पाठ कर भगवान बदरीनाथ के कपाट खोलने की तिथि घोषित की। ग्रह नक्षत्रों को देखते हुए तीर्थ पुरोहितों से विचार विमर्श के बाद राजा मनुजेंद्र शाह की उत्तराधिकारी रानी सीरजा ने कपाट खुलने की तिथि की घोषणा की।  

UP और उत्तराखंड में जहरीली शराब से गई 109 लोगों की जान, एक्शन में पुलिस

10 मई को 4 बजकर 15 मिनट के शुभमहूर्त पर भगवान बदरी विशाल के कपाट खोले जाएंगे। बता दें कि नरेंद्रनगर राजघराने से गाडू घड़ा (तेल कलश) बदरीनाथ पहुंचाया जाता है। फिर इसी तेल से भगवान बदरीनाथ का दीपक जलाया जाता है। इसके बाद विधि विधान से बदरीनाथ के कपाट खोले जाते हैं।

बदरीनाथ धाम की परंपरा में टिहरी के राजा को बोलंदा बद्रीश का प्रतीक माना जाता है यानी बोलते हुए बद्री भगवान। बदरीनाथ धाम के कपाट खुलने की परंपरा है कि बसंत पंचमी के दिन ही यह तय किया जाता है कि मंदिर के कपाट किस दिन खुलेंगे और शुभ मुहूर्त क्या होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.