Wednesday, Dec 07, 2022
-->
because-of-patients-bad-behavior-female-doctor-announce-to-not-to-work

महिला डॉक्टर से मरीज ने की बदसलूकी, गुस्साए डॉक्टरों ने काम किया बंद

  • Updated on 10/5/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। अम्बेडकर अस्पताल में महिला डॉक्टर को इलाज में आनाकानी करना भारी पड़ गया। लेबर रूम में मरीज की तिमारदार एक महिला ने महिला डॉक्टर का हाथ मरोड़ दिया और उनके साथ बदसलूकी की। इतना ही नहीं तिमारदार एक कर्मचारी के साथ मिलकर महिला डॉक्टर को उनके घर धमकाने पहुंंच गए।

घटना से गुस्साए सभी रेजिडेंट डॉक्टर गुरुवार को काम बंद कर हड़ताल पर चले गए। डॉक्टरों की हड़ताल के चलते मरीजों को पूरा दिन इलाज के लिए भटकना पड़ा। डॉक्टरों की मांग है कि सभी आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए। 

पत्नी की हत्या मामले में पूर्व TV एंकर सुहैब इलियासी को हाई कोर्ट से मिली बड़ी राहत

ये है पूरा मामला
अस्पताल प्रशासन से मिली जानकारी के  मुताबिक बुधवार रात आठ बजे लेबर रूम में एक महिला को भर्ती कराया गया था। मरीज के परिजनों ने इलाज करने की बात कही तो महिला डॉक्टर रेणु आजाद उन पर भड़क गई और उन्हें इंतजार करने को कहा। इसी बात पर मरीज की महिला तिमारदार और डाक्टर के बीच कहासुनी हो गई। बात इतनी बढ़ गई कि महिला तिमारदार ने  महिला डॉक्टर का हाथ पकड़कर मरोड़ दिया। इसके बाद मामले की सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी गई।

महिला डॉक्टर का किया पीछा
पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों पक्षों को शांत कराया और पीड़ित डॉक्टर की शिकायत पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया। मामला यहीं शांत नहीं हुआ महिला मरीज के परिजन पुलिस में शिकायत करने की बात से नाराज हो गए और उन्होंने सुबह 4 बजे उस वक्त महिला डाक्टर का पीछा करना शुरू कर दिया, जब वह ड्यूटी समाप्त कर अपने घर लौट रही थीं। पीछा करने वालों में अस्पताल का एक नर्सिंग अर्दली कर्मचारी शशि भी शामिल था। 

कूड़े के ढेर से बेहाल दिल्लीः सरकार ने निगमों के लिए जारी किए 500 करोड़

जान से मारने की दी धमकी
पीछा कर रहे लोगों ने महिला डाक्टर को उनके घर के पास रोक लिया और  शिकायत वापस लेने के लिए धमकाया व जान से मारने की धमकी दी। इस घटना की शिकायत भी पुलिस को दी गई है। शिकायत के बाद कार्रवाई करते हुए आरोपी परिजनों को गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि खबर लिखे जाने तक नर्सिंग अर्दली कर्मचारी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। डॉक्टरों की हड़ताल के बाद मौके की नजाकत को देखते हुए रोहिणी जिले के आला पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए। जिन्होंने किसी तरह पूरे मामलेे को संभाला। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.